अमेरिका वर्क वीजा के नाम पर युवक को इरान में बनाया बंधक : हरियाणा के 7 युवक फंसे, मारपीट कर पासपोर्ट छीन, इंडियन अंबेसी में पहुंचे

फतेहाबाद। फतेहाबाद के टोहाना क्षेत्र में कबूतरबाजों ने एक युवक को अमेरिका का सपना दिखाकर इरान में अवैध रूप से भेज दिया और वहां उसे बंधक बनाकर बुरी तरह पीटा। आरोपियों ने युवक के परिजनों से उसकी बात करवाकर 25 लाख रुपये मांगे, रुपये न देने पर उसे बुरी तरह पीटते रहे। युवक जाखल क्षेत्र में तैनात एक एएसआई का पुत्र है और उसके अनुसार वह अकेला नहीं उसके साथ 6 अन्य युवक भी फंसे हुए हैं।

टोहाना सिटी पुलिस ने युवक के पिता की शिकायत पर आईपीसी की धारा 323, 34, 341, 384, 387, 406, 420, 506 के तहत मामला दर्ज किया है। उधर जब मामला एसपी आस्था मोदी के संज्ञान में आया तो उन्होंने विदेश मंत्रालय और इंडियन अंबेसी तक यह बात पहुंचा दी, जिसके बाद सभी युवकों को इंडियन अंबेसी में सुरक्षित रखवाया गया है। 6 अन्य युवक हरियाणा के अन्य क्षेत्रों से बताए जा रहे हैं।

ALSO READ  फतेहाबाद जिले में बेहतरीन मिसाल: सर्वसम्मति से चुना इस गांव का सरपंच

 

पुलिस को दी शिकायत में टोहाना निवासी ईश्वर सिंह ने बताया कि 7-8 माह पहले उसके बेटे अमित की गांव सीसर नरवाना निवासी मोहित व किठाना कैथल निवासी अशोक से मुलाकात हुई थी, जिन्होंने अमेरिका वर्क वीजा लगाने की बात कही और इसके लिए 45 लाख रुपये मांगे। साथ ही कहा कि पैसे अमेरिका जाने के बाद दे देना। उसने बताया कि पांच छह माह पहले झांसे में आकर उसका लड़का यहां से अमेरिका के लिए चंडीगढ़ एयरपोर्ट से चला गया। उसके बाद उससे व्हाट्सएप पर बातें होती रही, तब वह बताता रहा कि अभी वह वियतनाम में है और कभी किसी अन्य देश में है।

 

शिकायतकर्ता अनुसार बाद में उसके बेटे को एक माह से अशोक द्वारा इरान में रखा हुआ था। 8 अप्रैल को सुबह 10 बजे उसके फोन पर व्हाट्सएप कॉल आई, जिसमें उसके बेटे ने रोते हुए बताया कि उसे व उसके 6 दोस्तों को इरान में बंधक बनाकर पीटा है और उसे 25 लाख रुपये की मांग कर रहे हैं। 9 अप्रैल तक उसके बेटे से फोन करवाकर उससे रुपयों के लिए कहलवाते रहे और वह कहता रहा कि अभी पैसों का इंतेजाम नहीं हो पा रहा, इंतेजाम होते ही रुपये डाल दूंगा।

ALSO READ  चोरों का आतंक: होटल के कई कमरों से ए.सी., एलईडी उड़ाए, फनीर्चर की दुकान से खिड़कियां व दरवाजे गायब

 

इश्वर ने बताया कि इसके कुछ देर बाद फिर उसके बेटे का कॉल आया कि उसके मोबाइल, डॉलर, पासपोर्ट छीनकर व मारपीटकर उसे इरान में इंडियन एंबेसी के पास छोड़ दिया है। जिसके बाद ईश्वर ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी। उधर जब यह मामला एसपी आस्था मोदी के संज्ञान में आया तो उन्होंने विदेश मंत्रालय व इंडियन अंबेसी तक मामला पहुंचाया। जिसके बाद अब सभी युवकों को इंडियन अंबेसी में सुरक्षित रखा गया है।

एसपी आस्था मोदी ने बताया कि युवक अभी सुरक्षित हैं। फतेहाबाद जिले के युवक सहित एक अन्य का पासपोर्ट छीन लिया गया है जबकि अन्य के वीजा एक्सपायर हो चुके हैं, इसलिए उन्हें अभी थोड़ी प्रक्रिया को पूरा करने के बाद ही भारत वापस लाया जा सकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *