September 2022

सारी रात पिटबुल का आतंक: 15 किमी. दायरे में कई गांवों में घुस 12 लोगों को नोचा

गुरदासपुर। हाल ही में हरियाणा के पंचकूला में पिटबुल रखने पर बैन लगा दिया गया है। वहीं आज दीनानगर के पांच गांवों में पिटबुल ने कई लोगों पर धावा बोल दिया। खुंखार हुए कुत्ते ने 12 लोगों पर हमला कर उन्हें गँभीर रूप से घायल कर दिया। घटना रात करीब 10 बजे शुरू हुई और सुबह 7-8 बजे तक कुत्ता ऐसे ही गांव-गांव जाकर लोगों और पशुओं को नोचता रहा। गांव तंगोशाह से चौहाना गांव 15 किलोमीटर दूर है। इस पूरे रास्ते पर पिटबुल कुत्ते ने पूरा आतंक मचाए रखा। पोल में अपनी राय जरूर दें । ?

AmPm News

जानकारी के अनुसार कुत्ते ने सबसे पहले गांव गांव तंगोशाह के एक ईंट भट्ठे के दो मजदूरों पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया। इसके बाद देर रात गांव कोठे रांझे दे में पहुंचा और अपने घर पर बैठे दलीप सिंह पर हमला कर दिया। दलीप ने खुद को बचाने का प्रयास किया। इसी दौरान उनके घर के सामने बैठी रहने वाली फीमेल कुत्ते ने दलीप को बचाने का प्रयास किया और पिटबुल को पीछे से हमला कर दिया। इतने में दलीप को समय मिला तो वह वहां से भागने लगा, लेकिन कुत्ते ने फिर उसको पकड़ लिया और सिर को नोच डाला। वह गली से होते हुए भागने लगा तो उसको किसी और ने अपने घर में खींच कर उसकी जान बचाई।

पिटबुल यहां से निकला तो एक बछड़ा दिख गया, उसे भी बुरी तरह नोच डाला। यहां से भागकर वह एक और भट्ठे पर पहुंचा और एक और मजदूर को नोच डाला। यहां भी दो गली के कुत्तों ने पिटबुल से उसको छुड़वाया। इसी बीच गांव छन्नी में एक और व्यक्ति को काट दिया, जिसका नाम मंगल सिंह है। कुत्ता यहां से गांव कुंडे पहुंचा। सुबह के पांच बज चुके थे। लोग सैर पर निकले तो कुत्ते ने अशोक, गुलशन, विभीषण, गोपी, धर्मचंद, धर्मचंद की पत्नी पर हमलाकर उन्हें भी नोच डाला।

कुत्ता यहां से चौहाना गांव पहुंचा और एक सेवानिवृत्त सैनिक शक्ति सिंह पर हमलाकर उन्हें नोच डाला। शक्ति ङ्क्षसह ने अपने हाथ में पकड़ा डंडा कुत्ते के मुंह में डाल दिया और कुत्ते पर पकड़ बनाकर शोर मचाया, लोग वहां पहुंचे और घेरकर कुत्ते को लाठियों से पीटकर मौत के घाट उतारा गया।

ढाणी ठोबा के सुनील गढ़वाल बने असिस्टेंट कमांडेंट, पिता का सपना किया पूरा

फतेहाबाद । गांव ढाणी ठोबा के सुनील कुमार गढ़वाल सीआईएसएफ यानी केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल में असिस्टेंट कमांडेंट बन गए हैं। इससे स्वजनों व गांव के लोगों में खुशी का माहौल है। वैसे गांव ही नहीं आसपास के क्षेत्र के पहले युवा इस पद पर चयनित हुआ है। सुनील कुमार की पत्नी कविता ने बताया कि उनके पति पहले सीआईएसएफ में सब इंस्पेक्टर के पद पर भर्ती हुए थे। करीब पांच साल तक इस पद पर नौकरी की। गत वर्ष उन्होंने संघ लोक सेवा आयोग द्वारा केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल में असिस्टेंट कमांडेंट के पद के लिए आयोजित परीक्षा में भाग लिया।

चयनित सहायक कमांडेंट को हैदराबाद स्थित केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा अकादमी प्रशिक्षण दिया गया। गत दिवस पर 15वें बैंच के सहायक कमांडेंट का दीक्षांत समारोह आयोजित हुआ। जिसमें भी सुनील कुमार को सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षु चुना गया। अकादमी के उप निदेशक द्वारा बकायदा इसकी ट्राफी दी गई। सुरक्षा बल में रहते हुए ही सुनील ने इस परीक्षा की तैयारी की। चयन होने से परिवार में खुशी है। फिलहाल सुनील कुमार का परिवार फतेहाबाद के बीघड़ रोड पर रहता है। हालांकि सुनील कुमार की शुरुआती शिक्षा गांव ढाणी ठोबा में ही हुई। इसके बाद अंबाला के इंजीनियर कालेज से बायो टेक्नोलाजी में बीटेक की।

वहीं हिसार की गुरु जम्भेश्वर विश्वविद्यालय से फूड टेक्नोलाजी में एमटेक की। इस दौरान 2015 में सीआईएसएफ के लिए आयोजित एसएससी सीपीओ की परीक्षा पास करके सब इंस्पेक्टर के पद पर हो गया था। सुनील कुमार ने बताया कि उनके पिता दरिया सिंह गढ़वाल आर्मी में जवान रहे है। उनके पिता का सपना था कि उनका बेटा सुरक्षा बल में गजेटेड अधिकारी बने। उनके सपने को पूरा करने के लिए नौकरी मिलने के बाद भी तैयारी जारी रखी। इसके बाद आयोजित परीक्षा में भाग लेते रहे। गत वर्ष आयोजित परीक्षा का परिणाम अब जारी हुआ है। जिसमें उनका चयन हो गया।

डीसी बोले : भूना में हालात अब ठीक, लाइट दोपहर बाद ठीक होगी, पेयजल में समय लगेगा

फतेहाबाद। भूना में हालात अब सुधरने लगे हैं। काफी इलाकों से पानी निकल गया है, मार्केट भी खुलने लगी है, हालांकि कुछ एरिया अभी भी रह गया है, जहां पानी खड़ा है, काफी एरिया में आज 7वें दिन भी लाइट नहीं है। पेयजल सप्लाई अभी शुरू नहीं हो पाई है। इन सारे मुद्दों पर डीसी जगदीश शर्मा ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि फिल्हाल 23 से 25 तक पंप एवरेज में काम कर रहे हैं। जिससे तीव्रता से पानी निकाला जा रहा है। 12 क्यूसिक पानी एसटीपी से निकाला जा रहा है, 5 क्यूसिक पानी चंद्रावल माइनर से निकाला जा रहा है जबकि 17 क्यूसिक पानी भूना माइनर में छोड़ा जा रहा है।

उन्होंने बताया कि 80 प्रतिशत मार्केट भूना में अब खुल गई है। 4-5 ऐसी आईसोलेटड कॉलोनियां रह गई हैं, जहां अभी पानी दिख रहा है, जबकि बाकी एरिया में अब पानी नहीं है। जो एरिया अभी क्लीयर हो गए हैं, उनमें आज दोपहर बाद तक बिजली छोड़ दी जाएगी। पेयजल व्यवस्था दुरुस्त होने में अभी थोड़ा और समय लगेगा, क्योंकि वाटर वक्र्स में भी गंदा पानी भर गया था, नहरों में भी गंदा पानी बराबर चल रहा है। इसलिए पहले डिग्गियां खाली करवाकर साफ करवाई जाएंगी। फिर उसके बाद पेयजल व्यवस्था दुरुस्त हो पाएगी, तब तक टैंकरों से पानी मुहैया करवाया जाता रहेगा।

पहले 15 टैंकर लगाए हुए थे, अब इनकी संख्या बढ़ाकर 25 कर दी गई है। प्रशासन सभी जनप्रतिनिधियों, मौजिज लोगों की मदद ले रहा है और दे रहा है। हर कॉलोनी में अब फोङ्क्षगग करवाई जाएगी ताकि मच्छर न पनप सकें, इसके लिए फोगिंग मशीने मंगवा ली गई हैं। वीडिया का लिंक आगे है….

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें

पुलिसकर्मी को ड्यूटी के दौरान गंभीर चोट पहुंचाने के दोषी को 7 साल की कैद व जुर्माने की सजा

फतेहाबाद/जोइया: पुलिसकर्मी पर ड्यूटी के दौरान ड्यूटी में बाधा डालने, डराने-धमकाने व गंभीर चोट पहुंचाने के दोषी को जिला एवं सत्र न्यायाधीश डी आर चालिया की अदालत ने आईपीसी की धारा 333 के तहत 7 साल की कैद व 10 हजार रूपये जुर्माने की सजा सुनाई है। अदालत ने दोषी को आईपीसी की धारा 353 के तहत दो साल की कैद, 332 व 186 के तहत तीन-तीन माह कैद की सजा सुनाई है। अदालत ने दोषी को कुल 16 हजार 500 रूपये का जुर्माना भी लगाया है।

जानकारी के मुताबिक हुड्डा सेक्टर 3 स्थित पुलिस चौकी में तैनात मुख्य सिपाही अश्वनी कुमार की शिकायत पर शहर पुलिस थाना में भूना निवासी आरोपी मक्खन लाल के खिलाफ 11 फरवरी 2020 को आईपीसी की धारा 186, 333, 332 व 353 के तहत मामला दर्ज किया था। आरोपी मक्खन लाल ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि 10 फरवरी 2020 को वह और उसका लड़का संजय कुमार मेरे दोस्त भूना निवासी प्रेम कुमार के लड़के की बारात में रॉयल पैलेस भूना मोड में आए हुए थे। प्रेम कुमार के रिश्तेदार भी मेरे साथ थे, हमने शराब पी रखी थी और डीजे जोर जोर से बचा रहे थे तो पुलिस आ गई तथा हवलदार ने डीजे बंद करने को कहा, इस पर हमे गुस्सा आ गया और मैंने हवलदार को पीटना शुरू कर दिया। दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद विद्वान न्यायाधीश ने आरोपी मक्खन लाल को आईपीसी की धारा 186, 332, 333 व 353 के तहत दोषी करार दिया था।

गांव के विकास में लाखों रुपये के फर्जी बिल काट डाले, कई तत्कालीन अधिकारियों, पूर्व सरपंच व जिप सदस्य पर केस

फतेहाबाद। एक तरफ जहां भ्रष्टाचार के आरोप में पूर्व एसडीएम को विजिलेंस ने पकड़ा है तो वहीं टोहाना में गृह मंत्री अनिल विज के आदेश पर पुलिस ने टोहाना में 2018 के एबीपीओ, बीडीपीओ, एसडीओ पंचायती राज, जेई, डीडीपीओ, सचिव पंचायती राज, पूर्व सरपंच व जिला परिषद सदस्य के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में 406, 409, 420, 120 बी के तहत मामला दर्ज किया है। गृह मंत्री अनिल विज को भेजी शिकायत में हिंदालवाला निवासी विरेंद्रजीत ने आरोप लगाया कि क्षेत्र में हुए विकास में तत्कालीन सरपंच व जिला परिषद सदस्य जगदीश ओड़ ने उक्त अधिकारियों से मिलीभगत कर बड़े स्तर पर गबन किया गया। लाखों-लाखों रुपये के कई फर्जी बिल काट कर जमा करवाए गए। जिसकी उन्होंने उक्त अधिकारियों को शिकायत दी तो उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की, जिससे साबित हुआर कि सबकी मिलीभगत थी।

शिकायत में बताया कि उसने आरटीआई के तहत जानकारी मांगी थी, जिसमें ईंट भट्ठों से लाखों के बिल लिए गए,कई बिल फर्जी थे, एक बिल पर दो-दो पेमेंट दिखाई गई, 50 नंबर बिल जांच में मिला ही नहीं, कुछ एसी फर्मों के बिल दिए, जो फर्में ही मौजूद नहीं, एक भट्ठे के लाखों के बिल काटे, लेकिन उसकी एक भी ईंट गांव में नहीं लगी। वार्ड 16 का जो रास्ता मनरेगा के तहत बना था, उस रास्ते को भी लाखों रुपये से बनाकर दिखाया और गबन कर लिया। शिकायत में आगे आरोप लगाए गए हैं कि देसराज टोहाना के नाम पर मिट्टी के लाखों के बिल काट दिए, फिर उसके खाते से पैसा ट्रांसफर कर निकलवा लिए गए, देसराज का बैंक खाता इसका सबूत है।

शिकायतकर्ता अनुसार इस प्रकार लाखों-लाखों रुपये के काफी बिल फर्जी तरीके से काटकर गबन किया गया। आरोप है कि इस बारे में जब अधिकारियों को शिकायत दी गई तो एसडीओ पीडब्लूडी बींएडआर ने 20 अप्रैल 2022 की अपनी जांच रिपोर्ट में स्पष्ट तौर पर अंकित किया कि बिल फर्जी तरीके से काटे गए थे। शिकायतकर्ता के अनुसार जांच रिपोर्ट में गबन सामने आने पर भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। पुलिस ने अब गृहमंत्री के आदेश पर आरोपी अधिकारियों व अन्य के खिलाफ गबन के आरोप में मामला दर्ज कर लिया है।

ट्रक भरकर लोग पहुंचे डीसी कार्यालय, बोले मकान गिर रहे, आर्थिक सहायता दो

फतेहाबाद। एक तरफ जहां भूना में हालात दयनीय हैं तो वहीं दूसरी तरफ आसपास के गांवों के भी स्थिति बदतर हो गई है। गांवों में काफी मकान गिर चुके हैं या अब पानी निकलने के बाद गिरने की स्थिति में हैं। आज गांव भिरडाना के करीब 60-70 लोग ट्रक में भकर डीसी कार्यालय पहुंचे और धरना दे दिया। ‘डीसी साहब हमारी मदद करोÓ के नारे लगा रहे लोगों ने प्रशासन से आर्थिक सहायता की मांग की। लोगों के साथ आए पूर्व जिला परिषद सदस्य दीपक भिरडाना ने बताया कि वैसे तो पूरे गांव में लोग परेशान हैं, किसानों की फसलें उजड़ गई हैं, लेकिन जो गरीब तबका है, उनके सिर पर अब छते नहीं हैं।

काफी मकान गिर गए हैं, जबकि अब पानी निकलने पर बाकी मकानों में भी दरारें पड़ गई हैं, जो कभी भी गिर सकते हैं। लगभग लोगों के मकान कच्चे हैं, जो थोड़ा बहुत सामान था मकानों में, वो भी खराब हो गया। लोगों को अब रोटी पानी की दिक्कत हो गई है। उन्होंने प्रशासन से पीडि़त लोगों को जल्द से जल्द आर्थिक मदद दिलवाने की गुहार लगाई।

करोड़ों की सरपल्स जमीन हजारों में चहेेतों को दी ! विजिलेंस ने पूर्व एसडीएम व पटवारी को गिरफ्तार किया

फतेहाबाद। विजिलेंस विभाग की टीम ने धोखाधड़ी एवं भ्रष्टाचार के एक केस में फतेहाबाद के तत्कालीन एसडीएम सतबीर जांगू व तत्कालीन सरपल्स पटवारी जगदीश चंद्र को गिरफ्तार कर लिया है। उक्त दोनों के अलावा 9 अन्य लोगों पर 29 जून 2022 को भादंसं की धारा 120 बी, 166, 177, 409, 418, 420, आईपीसी, 13, 1 सी, 13,1 डी, पीसी एक्ट के तहत स्टेट विजिलेंस ब्यूरो हिसार ने मुकदमा दर्ज किया था। आरोप है कि तत्कालीन एसडीएम व पटवारी ने गांव भूंदड़ा की करोड़ों रुपये की 223 कनाल सरपल्स जमीन को पात्रों का न देकर अपने चहेतों के नाम करवा दी। जिन लोगों के नाम जमीन करवाई, उन 9 लोगों पर भी मुकदमा दर्ज हुआ है। इस मामले में जुलाई 2018 में जांच शुरू हुई थी और जून 2022 में मामला दर्ज हुआ, अब गिरफ्तारियां शुरू हो गई है।

दर्ज एफआईआर के अनुसार विजिलेंस जांच अधिकारी डीएसपी विजिलेंस सुरेंद्रपाल ने अपनी जांच में बताया है कि गांव भुन्दड़ा की 498 कनाल 14 मरले जमीन में से 223 कनाल यानि 28 एकड़ जमीन को 1981 में सरकार ने सरप्लस घोषित कर दिया था। नियमानुसार 1971 से पहले गांव के बाशिंदे, जिनके नाम 2 हेक्टेयर से ज्यादा भूमि ना हो, उन्हें यह जमीन अलॉट की जानी थी। लेकिन जांच में शामिल आया कि लगभग 11 करोड़ रुपये कीमत की यह जमीन मात्र 20 हजार रुपये से कम कीमत पर पात्र लोगों को न देकर उन लोगों को जमीन दे दी गई, जो या तो ज्यादा जमीन के मालिकान थे या फिर इस गांव के बाशिंदे ही नहीं थे।

इस मामले में तत्कालीन एसडीएम सतबीर जांगू व तत्कालीन सरप्लस पटवारी जगदीश चंद्र पर भी आरोप लगे। आरोप है कि सविंद्र सिंह भूंदड़ा के नाम 19 कनाल 2 मरले जमीन दे दी गई, नछत्तर सिंह रसूलपुर का रहने वाला है, उसे भी 44 कनाल 7 मरले जमीन दी गई, हरङ्क्षमद्र सिंह भूंदड़ा को 3 कनाल 2 मरले, मोहन सिंह भूंदड़ा को 14 कनाल अलॉट कर दी गई, गुरमेल सिंह भूंदड़ा को 16 कनाल दे दी, प्यारा सिंह दिगोह को 66 कनाल 19 मरले, हरविंद्र सिंह भूना को 3 कनाल 16 मरले, मिट्ठू सिंह रसूलपुर को 39 कनाल 8 मरले व जगसीर सिंह को अपात्र होते हुए जमीनें अलॉट कर दी गई। आपको बता दें कि सतबीर सिंह जांगू अब सेवानिवृत्त हो चुके हैं, जबकि पटवारी अभी भी भट्टू क्षेत्र में तैनात है।

विजिलेंस डीएसपी राकेश मलिक ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि सोर्स से विभाग को 2018 में इस मामले की जानकारी मिली थी, जिसके बाद जांच शुरू की गई थी। जांच में आरोप सामने आने पर 29 जून 2022 को मामला दर्ज कर लिया गया था। आज इनमें से दो आरोपी पूर्व एसडीएम सतबीर सिंह जांगू व तत्कालीन पटवारी जगदीश चंद्र को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले में आगामी कार्रवाई की जा रही है।

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें

राशिफल (30 सितम्बर, 2022 शुक्रवार)

मेष? (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) : आज आप कोई फैसला लेने में समर्थ होंगे । साझेदारी में किया गया काम आपके लिये फायदेमंद हो सकता है। आप अपने उदार स्वभाव से लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करने में सफल रहेंगे। ऑफिस के किसी काम में थोड़ी थकावट आ सकती है। आपको जीवनसाथी का सहयोग प्राप्त होगा। आपका आर्थिक पक्ष सामान्य बना रहेगा। आपकी कोई छुपी हुई ख़ासियत दूसरों के सामने उजागर हो सकती है। घर के बड़े बुजुर्गों का आर्शीवाद आप पर बना रहेगा। स्वास्थ्य सामान्य रहेगा।

वृष? (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी , वु , वे, वो) : आज आपको कोई नया कार्य मिल सकता है। इस राशि के विज्ञान विद्यार्थी के लिये आज का दिन अच्छा रहेगा। दोस्तों से किसी विषय को समझने में मदद मिलेगी। पहले किये गये किसी काम में प्रयासों का आज आपको सकारात्मक परिणाम मिलेगा। सहयोगी या प्रेमी आज एक दूसरे के साथ समय बितायेंगे। आपके रूके हुए काम भी पूरे होंगे। आज आपका स्वाथ्य उत्तम रहेगा।

मिथुन? (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) : आज जीवनसाथी आपकी भावनाओं को समझेंगे और आपके मन की बात जानने की कोशिश करेंगे। इससे रिश्तों में मधुरता बढ़ेगी। आज जो काम आपके लिए खास है, उसे पहले निपटाने की कोशिश करेंगे। काम में आपको पूरी सफलता मिलेगी। अगर आप कुछ दिनों से किसी निजी समस्या को लेकर परेशान चल रहे हैं, तो उससे निजात पाने के लिये आज आपको किसी दोस्त की मदद मिल सकती है। आपका दिन बेहतर रहेगा। स्वास्थ्य लाभ होगा।

कर्क? (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) : आज आपको के प्रॉपर्टी डीलर्स की डील आज पक्कि हो जायेगी। माता अपने बच्चों को कोई पसन्दीदा भोजन बना कर खिला सकती हैं। किसी जरूरी काम में सफलता मिलेगी। पैसों के मामले में स्थिति अच्छी रहेगी। महिलाओं को अपने पति का सहयोग मिलेगा। किसी काम के लिए बनाई गई योजना आज सफल रहेगी। कुछ दिनों से आपकी कोई अधूरी इच्छा पूरी होग। शत्रुओं का नाश और और संकटों से बचाव होगा। स्वास्थ्य सुधार निश्चित है।

सिंह? (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) : आज समय आपके साथ है। आपका आर्थिक पक्ष मजबूत बना रहेगा। आप उल्लास से भरे रहेंगे। साथ ही कुछ बेहतरीन कर गुजरने के मूड में रहेंगे। आज आपके सामने कुछ अच्छे अवसर आयेंगे, आपको उनका पूरा लाभ उठाने के लिए तैयार रहना चाहिए ǀ जो लोग पर्यटन के क्षेत्र से जुड़े हैं, उनको फायदा हो सकता है। कोई करीबी व्यक्ति आपसे मदद की मांग कर सकता है। छात्रों को आज मेहनत करने से अच्छी सफलता मिलेगी। व्यस्त रहने से थकान का होना निश्चित है।

कन्या? (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) : आज आपको अपने मान-सम्मान का पूरा ध्यान रखना चाहिए। बातों में उलझने से बचना चाहिए।आज किसी जरूरी काम को पूरा करने सफल रहेंगे । परिवार वालों के साथ आप घर में ही भगवान का ध्यान लगायेंगे। परिवार वालों के साथ किसी गंभीर मुद्दे पर बात करेंगे। जीवनसाथी के साथ आपके रिश्ते ठीक रहेंगे। घर में सकारात्मकता आयेंगी। करोबार में स्थिरता बनी रहेगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से दिन सामान्य रहेगा।

तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) : आज आपके धन लाभ के योग हैं। इस राशि के विद्यार्थी के लिए आज का दिन समान्य रहने वाला है, आपकी मेहनत जल्द ही रंग लायेगी। आज आप समझदारी के साथ काम करेंगे। आपको कारोबार में आगे बढ़ने के लिए थोड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। आज आप दोस्तों के साथ घुमने जाने की योजना बना सकते है । परिवार वालों के साथ हंसी-खुशी में दिन बीतेगा। आपको दादा-दादी का आशीर्वाद प्राप्त होगा। उनसे किसी काम में ली गई सलाह आपके लिये फायदेमंद रहेगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

वृश्चिक? (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) : आज आपकी सकारात्मक सोच आपको सफलता दिलाने में मदद करेगी। आज का दिन बेहतर रहेगा। जीवन को और अच्छा बनाने के लिए आप कुछ नया और रचनात्मक करेंगे। सरकारी नौकरी करने वाले लोगों के लिए दिन समान्य रहने वाला है। वरिष्ठ को अपनी बात कहने में सफल होंगे। शाम को जीवनसाथी के साथ आनंद से भरपूर समय बीतेगा। अपको माता-पिता का सहयोग मिलेगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से दिन सही रहेगा।

धनु? (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे): संभलकर फैसला लेने से आज आपके धन संबंधी कोई काम पूरा हो जायेगा। आपके दिमाग में कोई भावनात्मक उथल-पुथल से आप थोड़ा परेशान रहेंगे। आपको धैर्य बनाये रखना चाहिए। विवाहित आज अपने साथी के साथ अच्छा समय बितायेंगे | आपको अपनी माता की सेहत का ख्याल रखना चाहिए। बच्चो का पढाई में मन लगेगा और उन्हे कुछ नया सीखने को भी मिलेगा। आपकी सभी परेशानियाँ दूर होगी। स्वास्थ्य लाभ होगा ।

मकर? (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) : रोजगार में बढ़ोतरी होगी । कुछ लोगों का व्यवहार चिंता का कारण बनेगा। समाज में अपना मान-सम्मान बनाये रखने के लिये आपको कोशिशें जारी रखनी होगी। आज घर में किसी मामले को लेकर उलझन हो सकती है , अपने गुससे और जुबान पर सयम रखें और विवादों से बचकर रहें। कोर्ट-कचहरी के मामले सुलझ जायेंगे। जरुरत पड़ने पर साथ के कुछ लोग आपकी मदद के लिए तैयार रहेंगे । आपको अपने जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। स्वास्थ्य के लिए प्रयास सफल होंगे।

कुंभ? (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा): आज आपका समय लगभग सही रहेगा । कार्यक्षेत्र में बढ़ोतरी के आसार बनेंगे। परिवार के किसी अहम मुद्दे पर आप अपना फैसला दृढ़ रखेंगे। आप सकारात्मक ऊर्जा से भरपूर रहेंगे। समाज में आपकी एक अलग पहचान बनेगी। आज आप घर पर ही परिवार वालो के साथ समय बिताना पसन्द करेंगे , जिससे आपके मन को ताजगी का अनुभव होगा। व्यापारियों के लिए समय अनुकूल रहेगा। सेहत की दृष्टि से आप अच्छा महसूस करेंगे।

मीन? (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) : आज का दिन रोजगार की दृष्टि से उत्तम रहेगा। व्यस्त रह सकते है। आर्थिक रूप से मजबूत रहेंगे । जल्द ही कोई बड़ा लाभ मिलेगा। अपने काम को अच्छे से गति दे सकेंगे। जीवन में किसी नयी खुशी का संकेत मिलेगा । परिवार के सदस्य प्रसन्न होंगे । रिश्तों और काम के बीच तालमेल बना रहेगा। जीवनसाथी से शुभ समाचार मिलेगा । परिवार के साथ समय बिताने से खुशी मिलेगी। स्वास्थ्य लाभ होगा।

नोट :  यद्यपि शुद्ध राशिफल की पूरी कोशिश रही है फिर भी इन राशिफलों में और आपकी कुंडली व राशि के ग्रहों के आधार पर आपके जीवन में घटित हो रही घटनाओं में कुछ अन्तर हो सकता है। ऐसी स्थिति में आप किसी ज्योतिषी से अवश्य सम्पर्क करें। किसी भी भिन्नता के लिए हम उत्तरदायी नहीं हैं। आपका दिन मंगलमय हो।

 

फ़िर मोबाइल चोरी के आरोपी को ट्रेन से बाहर लटकाने का आया मामला सामने, बुरी तरह पीटा

भागलपुर। बिहार में चलती ट्रेन से मोबाइल चोरी के आरोपी को लटका कर रखने का एक और नया मामला सामने आया है। इस बार भागलपुर के ममलखा स्टेशन का यह मामला है, जहां ट्रेन चलने ही वाली थी कि एक युवक ने खिड़की में हाथ डालकर मोबाइल चोरी का प्रयास किया। इतने में यात्रियों ने उसे पकड़कर कोच में खींच लिया और उसे पीटा। फिर उसे बाहर लटकाया गया। फिर उसे अंदर खींच कर बहुत बुरी तरह पीटा गया। उसे कोच के बाहर खिड़की पर बांधकर लटकाने के दौरान 10 किलोमीटर तक ऐसे ही लटकाए रखा गया। लोग वीडियो बनाते रहे और कहते रहे कि इसे ऐसे ही घर तक लेकर जाएंगे, यह चोरी करता है इसे मार दो।

वहीं वीडियो में देखने को मिल रहा है कि युवक के पैर कभी पटरियों पर पड़ी बजरी से टकराते हैं तो कभी पोल से टकराते टकराते बचे। इस दौरान वह चीखता भी रहा। 10 किलोमीटर बाद उसे छोड़ दिया गया। आपको बता दें कि इससे पहले करीब 10- 15 दिन पहले ऐसा ही मामला बिहार के बेगूसराय में सामने आया था, जहां इसी प्रकार एक युवक ने खिड़की पर बैठे यात्री का मोबाइल चुराने की कोशिश की तो इतने में ट्रेन चलने लगी।

यात्रियों ने उसके हाथ खिड़की से ही अंदर पकड़ लिए और चलती ट्रेन पर उसे ऐसे ही हाथ पकड़कर ले गए। करीब 15 किलोमीटर तक उसे ऐसे ही खिड़की पर हाथ पकड़कर लटकाए रखा। वह जान की भीख मांगता रहा और कहता रहा कि हाथ टूट जाएगा छोड़ दो भैया।

जुगाड़ रेहड़ों पर हाईकोर्ट सख्त, जब्त करने के निर्देश

चंडीगढ़। प्रदेशभर में बाइक के पीछे रेहड़ी लगाकर बनाए गए माल वाहक वाहनों पर पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने सख्त रुख अपनाया है। हालांकि ऐसे वाहनों पर पहले भी प्रदेश में रोक है, पुलिस चालान भी करती है, लेकिन इसके बावजूद धड़ल्ले से जुगाड़ वाहन चल रहे हैं। अब हाईकोर्ट ने दुर्घटनाओं की आशंकाओं को देखते हुए हरियाणा सरकार को इन्हें जब्त किए जाने के निर्देश दिए हैं।

जवाब में सरकार की ओर से बताया गया है कि वर्ष 2013 से 2021 तक 5238 जुगाड़ वाहनों को चालान किया गया और 1179 को जब्त किया गया है। सुनवाई के दौरान जस्टिस विनोद एस भारद्वाज ने अधिकारियों को ऐसे वाहनों को संचालन की अनुमति नहीं देने संबंधी पहले दिए गए दिशा निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करवाने को कहा है।

इन जुगाड़ वाहनों के खिलाफ टैंपो ड्राइवर एसोसिएशन द्वारा वकील की मार्फत याचिका दायर की हुई है, जिसकी सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने ये निर्देश दिए। गौरतलब है कि प्रदेश में फीटर रेहड़ा पहले से ही बैन है और अब समय के साथ-साथ लगभग खत्म ही हो गया है। लेकिन अब नया जुगाड़ पैदा हो गया है। लोग पुराने बाइक के पीछे रेहड़ा लगाकर उसे तिपहिया माल वाहन बनाकर प्रयोग कर रहे हैं। रेहड़ा संचालक काफी तरह का सामान ढोह रहे हैं।

शहर से गांव तक भी माल पहुंचा रहे हैं, जिससे टाटा ऐस जैसे चार पहिया वाहन चालक लंबे समय से प्रशासन से इन पर बैन लगाने की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि वे लोन लेकर लाखों रुपये से वाहन लेते हैं, उनका बीमा भरते हैं, टैक्स भरते हैं, फिर भी उन्हें रोजी रोटी नहीं मिलती, जबकि ये जुगाड़ वाहन वाले बिना नंबर, बिना आरसी, बिना टैक्स दिए धड़ल्ले से माल ढो रहे हैं।