वाट्सअप कॉल करके खुद को सीआईए स्टाफ बताया, बोला आपका बेटा शक के दायरे में, 50 हजार दो

दूसरे मामले में गूगल पर बैंक की हेल्पलाइन सर्च करना पड़ा महंगा, ठग ने उड़ाऐ 40 हजार

फतेहाबाद। फतेहाबाद क्षेत्र में एक ठग (Cyber Fraud) ने व्यक्ति को फोन कर खुद को सीआईए स्टाफ से बताया और उसके बेटे को छोडऩे के एवज में 50 हजार रुपये मांग डाले। घबराए शख्स ने 20 हजार रुपये भेज भी दिए, लेकिन बाद में ठगी का पता चला। उधर गूगल पर बैंक संबंधी डिटेल खोजना एक शख्स को महंगा पड़ गया। गूगल सर्च के तुरंत बाद अज्ञात शख्स ने फोन पर एटीएम डिटेल लेकर बैंक खाते से 40 हजार रुपये निकलवा लिए। शहर पुलिस ने दोनों मामलों में अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी व गबन के आरोप में केस दर्ज किए हैं।

पहले मामले में पुलिस को दी शिकायत में गांव मताना निवासी सुनील ने बताया कि वह गांव बीघड़ में दूध की डेयरी करता है। उसका बेटा हिसार में सीएस की तैयारी कर रहा है। आरोप है कि 25 जनवरी 2024 को सुबह 10 बजे वाट्सअप कॉल आई। कॉल करने वाले ने कहा कि वह सीआईए स्टाफ से बोल रहा है। आपका लड़का शक के दायरे में है, कुछ लड़कों के साथ पकड़ा गया है। लड़का पढऩे वाला है।

ALSO READ  एमपी रोही का युवक काबू, चोरी के 16 बाइक बरामद, दिल्ली बेचने की फिराक में था

कुछ देर में डीएसपी मीडिया को लेकर आ रहे हंै। आपका लडक़ा जेल चला जाएगा और बदनामी होगी। अगर 50 हजार रुपये दे दोगे तो छोड़ देंगे। इसके चलते वह घबरा गया और दिए गए नंबर से 20 हजार रुपये फोन पे कर दिए। जब वह 30 हजार रुपये डलवाने लगा तो इतनी देर में बेटे का फोन आ गया और उसने कहा कि वह एकैडमी में पढ़ाई कर रहा था। फिलहाल पुलिस ने आईपीसी की धारा 420, 406 के तहत मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

उधर दूसरे मामले में अशोक नगर फतेहाबाद निवासी महाबीर ने बताया कि वह भारतीय सेना में सूबेदार पद से रिटायर हुआ है। उसके बेटे बलराज ने इंडियन बैंक से लोन लिया हुआ है और जनवरी माह की उसने किश्त भरनी थी। इसके लिए उसने गूगल पर बैंक की हेल्पलाइन सर्च की तो तुरंत ही उसके बेटे के पास अज्ञात नंबर से कॉल आई और खुद को बैंक कर्मचारी बताकर एटीएम के नंबर, पिन आदि की डिटेल मांगी, जिस पर उन्होंने जानकारी दे दी। इसके तुरंत बाद ही अलग-अलग ट्रांजेक्शन से 40 हजार रुपये की नगदी उसके खाते से उड़ गई। जिसके बाद उन्होंने साइबर पोर्टल पर धोखाधड़ी की शिकायत दी। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *