फतेहाबाद की मुस्कान सिंगला ने जेआरएफ यूजीसी नेट परीक्षा उत्तीर्ण कर किया नाम रोशन

फतेहाबाद। फतेहाबाद जिले की बेटियां खेलों के साथ-साथ शिक्षा में भी अपनी प्रतिभा का शानदार प्रदर्शन कर अपना लोहा मनवा रही है। इसी सूची में एक ओर बेटी का नाम जुड़ गया है। फतेहाबाद शहर की रहने वाली मेधावी छात्रा मुस्कान सिंगला ने देशभर में आयोजित की गई जेआरएफ-यूजीसी नेट (इंग्लिश) परीक्षा 2022 में 99.5 परसनटाइल अंक लेकर उच्च स्थान हासिल किया है। मुस्कान सिंगला की माता सुनीता सिंगला जहां गांव दरियापुर के सरकारी स्कूल में प्रिंसीपल के पद पर कार्यरत है वहीं उनके पिता बारूराम सिंगला गांव गिल्लांखेड़ा में हैडमास्टर है। माता-पिता दोनों के शिक्षा क्षेत्र से जुड़े होने का फायदा मुस्कान को मिला और उसने कड़ी मेहनत कर इस परीक्षा को शानदार अंकों के साथ उत्तीर्ण किया।

मुस्कान की इस उपलब्धि से जहां परिवार में जश्न का माहौल है वहीं मुस्कान के घर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। मुस्कान सिंगला ने बताया कि उसने दसवीं कक्षा फतेहाबाद के डीएवी स्कूल से जबकि बारहवीं की परीक्षा नॉन मेडिकल के साथ डैफोडिल्स स्कूल फतेहाबाद से पास की थी। इसके बाद बीए ऑनर्स (अंग्रेजी) व एमए अंग्रेजी की परीक्षा उसने पंजाब विश्वविद्यालय चण्डीगढ़ से बहुत अच्छे अंकों के साथ पास की। मुस्कान वर्तमान में चण्डीगढ़ यूनिवर्सिटी में ही सहायक प्रोफेसर के पद पर कार्यरत है।

ALSO READ  सोनाली हत्याकांड : फतेहाबाद के गांव भूथन पहुंची सीबीआई

मुस्कान ने बताया कि माता-पिता के शिक्षा क्षेत्र से जुड़े रहने के कारण घर का माहौल शिक्षा के अनुकूल रहा और उन्हें उनके माता-पिता का पूरा सहयोग व मार्गदर्शन मिला। माता-पिता के सहयोग एवं शिक्षकों की मेहनत की बदौलत उसने शिक्षा क्षेत्र में ही अपना कैरियर बनाने का संकल्प लिया। इसको लेकर उसने चण्डीगढ़ में रहकर ही यूजीसी नेट तथा जेआरएफ की तैयारी की। मुस्कान की कड़ी मेहनत का ही परिणाम है कि उसने यह परीक्षा शानदार अंकों के साथ उत्तीर्ण कर अपने माता-पिता का व फतेहाबाद जिले का नाम रोशन किया है।

मुस्कान का कहना है कि वह पंजाब यूनिवर्सिटी से पीएचडी कर दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर के पद पर कार्य करना चाहती है। उसका मानना है कि लोगों को शिक्षा रूपी दान बांटने से बेहतर कोई कार्य नहीं हो सकता।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *