फतेहाबाद जिले में में बिना मान्यता चल रहे 41 स्कूलों की सूची, दाखिले से बचें, शिक्षा विभाग Admission न करवाने के लिए जारी करेगा सार्वजनिक सूचना

फतेहाबाद। शिक्षा विभाग की सख्ती के बाद भी जिले में गैर मान्यता प्राप्त प्राइमरी और मिडिल स्कूल चल रहे हैं। जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय द्वारा बीईओ कार्यालय के जरिए करवाए गए सर्वे में खुलासा हुआ है कि जिले में 41 गैर मान्यता प्राप्त स्कूल चल रहे हैं।

मौलिक शिक्षा विभाग अब इन स्कूलों को नोटिस जारी करेगा। इसके अलावा निदेशालय को भी रिपोर्ट भेजी जा रही है। निदेशालय स्तर पर इन स्कूलों में दाखिला नहीं करवाने को लेकर सार्वजनिक सूचना भी जारी होगी। जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय ने इन स्कूलों में दाखिले रोकने के लिए बीईओ कार्यालय को निर्देश जारी किए हैं। ये निर्देश दिए गए हैं कि जब तक संबंधित स्कूल मान्यता नहीं ले लेते हैं तब तक दाखिला न किया जाए।

हालांकि जिला मौलिक शिक्षा विभाग कार्यालय नया सत्र शुरू होने के बाद 23 दिन बाद जागा है। अधिकतर स्कूलों में दाखिला प्रक्रिया भी हो चुकी है। अहम बात यह है कि फतेहाबाद, भूना और टोहाना क्षेत्र में सबसे ज्यादा गैर मान्यता प्राप्त प्राइमरी और मिडिल स्कूल चल रहे हैं। इसके अलावा फतेहाबाद और रतिया क्षेत्र में कई निजी स्कूल संचालक ऐसे है, जिन्होंने अनुमति लेकर स्कूल बना लिया, लेकिन मान्यता मिलने से पहले ही कक्षाएं शुरू कर दी है।

ALSO READ  पराली की गांठों में सुबह 6 बजे लगी भयंकर आग दोपहर तक जारी

 

शिक्षा विभाग तीन स्कूलों की सूची पहले कर चुका है जारी

जिला शिक्षा विभाग कार्यालय ने तीन स्कूलों की सूची सत्र शुरू होने से पहले ही सार्वजनिक कर दी थी और हाई और सीनियर सेकेंडरी कक्षाओं में दाखिले न करवाने की अपील की गई थी। जिसमें भूना खंड के दो और फतेहाबाद खंड का एक स्कूल शामिल है।

मान्यता नहीं, लेकिन दाखिले सीनियर सेकेंडरी तक

शिक्षा विभाग के संज्ञान में ये भी आया है कि कई निजी स्कूलों के पास कम कक्षाओं तक मान्यता है जबकि दाखिले बड़ी कक्षाओं के भी किए जा रहे है। अगर किसी स्कूल के पास आठवीं तक मान्यता है तो कक्षा दसवीं और बारहवीं के भी दाखिले किए जा रहे हैं। ये स्कूल दूसरे स्कूल में नाम चला कर खुद कक्षाएं लगा रहे है।

बीईओ के जरिए सर्वे करवाया गया था। कि कितने स्कूल ऐसे हैं, जो बिना मान्यता के चलते रहे हैं। जिले में करीब 41 स्कूल है, जो बिना मान्यता चल रहे हैं। इन स्कूल संचालकों को नोटिस जारी किया जाएगा। इसके अलावा बीईओ को निर्देश भी दिए जा रहे हैं कि इन स्कूलों में दाखिले न होने दें, जब तक मान्यता नहीं ली जाती है।
– वेद सिंह दहिया, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *