जिला परिषद और ब्लाक समिति के लिए शांतिपूर्वक मतदान जारी

फतेहाबाद। पंचायती राज संस्थाएं जिला परिषद और ब्लाक समिति के लिए आज मतदान हुआ। आज सुबह 7 बजे से ही जिलाभर में मतदान शुरू हो गया। दोपहर 4 बजे तक सभी बूथों पर शांतिपूर्वक मतदान रहा। एक-दो जगहों पर हलका फुलका हंगामा हुआ, लेकिन शांति बनी रही। सभी बूथों पर पुलिस तैनात रही। वहीं संवेदनशील व अति संवेदनशील पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात रहा। चुनाव ड्यूटी में लगे तमाम बड़े अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक अपनी-अपनी ड्यूटी में नजर आए। एसपी आस्था मोदी ने दिनभर फतेहाबाद जिले के विभिन्न बूथों का निरीक्षण किया और व्यवस्था का जायजा लिया।

 

सुबह ठंड के चलते मतदान काफी धीमा रहा, लेकिन साढ़े 9 बजे के बाद जैसे ही दिन चढऩा शुरू हुआ तो मतदान ने भी रफ्तार पकड़ी। दोपहर 5 बजकर 21 मिनट बजे तक 73 प्रतिशत से ज्यादा मतदान हो चुका है। जिले में कुल 5 लाख 30 हजार 244 मतदाता हैं। जिनमें इस समय तक 3 लाख 87 हजार 550 से ज्यादा मतदाता अपना वोट डाल चुके थे। 5.21 बजे तक फतेहाबाद जिले में सबसे ज्यादा खंड जाखल में अधिक मतदान हुआ है। यहां 77.2 प्रतिशत मतदान हुआ। गांवों में जिला परिषद, ब्लाक समिति सहित सरपंच व पंच प्रत्याशियों ने अपने-अपने वोट डाले तो वहीं विधायक दुड़ाराम अपना वोट डालने के लिए पैतृक गांव एमपी रोही पहुंचे, जहां धर्मपत्नी के साथ उन्होंने मतदान किया।

ALSO READ  फतेहाबाद जिले के 11 गांव के नशा करने वाले 214 लोगों में 90 फीसदी में नपुंसकता के लक्षण

उन्होंने जिलावासियों से ज्यादा से ज्यादा संख्या में मतदान करने की अपील की। आपको बता दें कि जिले में 629 बूथों पर आज वोटिंग हो रही है। जिसके लिए 2516 पोलिंग अफसर सहित 2732 सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं। 69 सुपरवाइजर व 60 ड््यूटी मैजिस्ट्रेट भी लगाए गए है। पुलिस अधीक्षक सहित सात डीएसपी, 17 निरीक्षक, 124 सहायक निरीक्षक, 1300 हवलदार व सिपाही, 750 होमगार्ड, 50 पैट्रोलिंग पार्टियों के अलावा 2732 सुरक्षाकर्मी स्टाफ लगाया गया है।

यहां हुआ हलका फुलका हंगामा

जिला परिषद के वार्ड नं. 6 का भिरडाना गांव संवेदनशील बूथों में शामिल है। यहां पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात रहा। सुबह 11 बजे के बाद अचानक यहां हल्का फुल्का हंगामा हो गया। वार्ड से जिप प्रत्याशी ज्योति के पति दीपक भिरडाना जोर से आवाजें लगाकर लोगों को अपने चुनाव चिह्न पर वोट डालने को कह रहे थे, जिस पर पुलिस ने उन्हें इस प्रकार शोर करने पर रोक दिया। जिस पर हंगामे की स्थिति बनती देख पुलिस ने उन्हें यहां से हटा दिया। वहीं दादुपुर गांव में जिप चुनाव प्रत्याशी बीबो इंदौरा ने विधायक लक्ष्मण नापा के सुरक्षा कर्मी की वीडियो जारी करते हुए कहा कि वह यहां बूथ पर लोगों पर वोटों का दबाव नापा समर्थित प्रत्याशी के लिए बना रहे थे। हालांकि बाद में शांति बनी रही।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *