फतेहाबाद सहित 10 जिलों में पहले होंगे पंचायत चुनाव, फतेहाबाद सहित हरियाणा की एक-एक जानकारी पढ़ें

फतेहाबाद। आखिरकार देर से ही सही पंचायती राज चुनावों की घोषणा हो गई है। पंचकूला में राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह ने प्रेस कांन्फे्रस कर घोषणा की। पहले 10 जिलों में पहले चरण में चुनाव होंगे। जिनमें फतेहाबाद जिला भी शामिल है। यानि आदमपुर को विधायक से पहले फतेहाबाद सहित सभी 10 जिलों को सरपंच, पंच, जिला परिषद सदस्य व ब्लाक समिति सदस्य मिल जाएंगे। पहले चरण में 30 अक्टूबर को जिला परिषद व पंचायत समिति के लिए मतदान होगा, सरपंच पंचों का चुनाव 2 नवंबर को होगा। सरपंच पंचों की मतगणना उसी दिन वोटिंग के बाद हो जाएगी। जिला परिषद व पंचायत समिति की मतगणना बाकी जिलों में चुनाव खत्म होने के बाद होगी। बाकी जिलों के लिए घोषणा बाद में होगी।

इन जिलों में होंगे पहले चुनाव

पहले चरण में फतेहाबाद, भिवानी, जींद, झज्जर, महेंद्रगढ़, कैथल, नूह, पंचकूला, पानीपत व यमुनानगर में चुनाव होंगे। 14 अक्टूबर से यहां नामांकन शुरू हो जाएंगे। जो 19 अक्टूबर तक चलेंगे। 20 अक्टूबर को नामांकन पत्रों की पड़ताल होगी। 21 अक्टूबर तक नामांकन वापस लिए जा सकेंगे।

ALSO READ  बेटी के जन्म पर जिला प्रशासन घर पर जाकर देगा मिठाई, बधाई पत्र व 1100 रुपये

गौरतलब है कि हरियाणा में लगभग दो साल बाद चुनाव हो रहे हैं। 21 महीनों से चुनाव पैंडिंग थे, पहले किसान आंदोलन, फिर कोरोना और फिर कई तरह के कानूनी पचड़े पडऩे से गांवों का ेसरकारें नहीं मिल पाई थी, जिस कारण विकास बाधित हो गया था। इस बीच शहरी निकाय के चुनाव हो गए थे। पिछली बार जनवरी 2016 को चुनाव हुए थे।

इस बार कितना आरक्षण

इस बार पंचायत चुनाव में बीसी ए वर्ग को 8 प्रतिशत आरक्षण दिया गया है, जबकि महिलाओं के लिए 50 फीसदी आरक्षण रखा गया है। इसे कोर्ट में चुनौती देने के कारण ही चुनाव में देरी होती गई। अब चुनाव आयोग ने 30 नवंबर से पहले-पहले चुनाव करवाने की डेड लाइन घोषित की थी।

एक नजर फतेहाबाद पर

फतेहाबाद में कुल मतदाता 5 लाख 29 हजार 548 मतदाता हैं। जिनमें 2 लाख 79 हजार 621 पुरुषद व 2 लाख 49 हजार 919 महिला मतदाता हैं। जिले में 630 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। जिनमें 55 बूथ संवेदनशील होंगे जबकि 42 अति संवेदनशील होंगे।

ALSO READ  बाल झडऩे से परेशान युवक ने दी जान

एक नजर में हरियाणाा

हरियाणा का कुल क्षेत्र 44 हजार 212 वर्ग किलोमीटर है। जनसंख्या 2011 जनगणना अनुसार 2 करोड़ 53 लाख 51 हजार 462 है। साक्षरता दर 75.55 प्रतिशत है। हरियाणा में जिला परिषद 22 हैं, पंचायत समिति 143 और ग्राम पंचायत 6220 हैं। प्रदेश में पुरुष मतदाता 64 लाख 32 हजार 609 महिला मतदाता 56 लाख10 हजार 272 है। प्रदेशभर में 14 हजार 637 बूथ बनाए गए हैं, जिनमें 2957 बूथ संवेदनशील व 3533 बूथ अति संवेदनशील होंगे। प्रदेश में 411 जिला परिषद सदस्य चुने जाने हैं, जबकि 3081 पंचायत समिति मेंबर, 6220 सरपंच, और 61 हजार 993 पंच चुने जाने हैं। प्रदेशभर में 36 हजार पोलिंग एजेंट, आरओ, सुपवाइजर स्टाफ, प्रीजाइडिंग ऑफिसर, पोलिंग आफिसर तैनात रहेंगे।

कितनी सिक्योरिटी राशि

सामान्य वर्ग केे पंच के लिए 250 रुपये सिक्योरिटी राशि होगी, जबकि महिला, एससी और बीसी वर्ग के लिए 125 रुपये सिक्योरिटी राशि होगी। सामान्य वर्ग सरपंच के लिए 500 रुपये, बाकी के लिए 250 रुपये, मेंबर पंचायत समिति सामान्य वर्ग के लिए 750 रुपये, बाकी के लिए 375 रुपये, जिला परिषद मेंबर सामान्य के लिए 1 हजार रुपये, बाकी के लिए 500 रुपये निर्धारित है।

ALSO READ  बरसात के तीन दिन बाद भी खेतों में जलभराव, मर रहे वन्य जीव
पंच, सरपंच कितना कर सकेंगे खर्चा

पंच 50 हजार रुपये, सरपंच 2 लाख रुपये, मेंबर पंचायत समिति 3 लाख 60 हजार रुपये, जिला परिषद मेंबर के लिए 6 लाख रुपये खर्चा सीमा निर्धारित की गई है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *