Who will win in the election battle of Sonipat? Know the complete political equation

Sonipat Lok Sabha Seat News : सोनीपत की चुनावी जंग में कौन मारेगा बाजी? जानें पूरा राजनीतिक समीकरण

Sonipat Lok Sabha Seat News : लोकसभा चुनाव 2024 अब अंत्तिम चरणों में पहुंच चुका है। चार चरणों के बाद 5 वें चरण पर आज मतदान होगा, 6 वें एवं 7 वें चरण का मतदान भी 25 मई और 1 जून पे जल्द संपन्न हो जाएगा। 25 मई को हरियाणा के सभी 10 सीटों पर मतदान होगा। ऐसे में हरियाणा की सियासत में अहम् स्थान रखने वाली सोनीपत लोकसभा सीट पर सभी की निगाहें टिकी हैं। 1977 में अस्तित्व में आए सोनीपत संसदीय क्षेत्र से भाजपा ने जहां मोहनलाल बड़ौली को मैदान में उतारा है। वहीं कांग्रेस ने सतपाल ब्रहम्चारी को पार्टी उम्मीदवार बनाया है। जबकि, इससे पहले दो बार भाजपा उम्मीदवार रमेश कौशिक विजयी पताका फहरा चुके हैं। संयोगवश रमेश कौशिक हविपा के टिकट पर गन्नौर से और कांग्रेस के टिकट पर राई से विधायक रह चुके हैं। जबकि मोहनलाल बड़ौली वर्तमान में राई से विधायक हैं। इस बार कांग्रेस से सतपाल ब्रह्मचारी, भाजपा से मोहन लाल बड़ौली, जजपा से भूपेन्द्र मलिक और इनेलो से पूर्व एसपी अनूप सिंह दहिया सियासी मैदान में उतरे हैं। अब देखना मजेदार होगा कि मतदाता किसकी झोली में विजयी मत डालता हैं।

2019 तक ये बने सांसद 

  • सोनीपत संसदीय सीट (Sonipat Lok Sabha Seat News) 1977 में अस्तित्व में आने के बाद पहले चुनाव में मुख्तार सिंह मलिक ने बीएलडी के टिकट पर चनुाव जीतकर सांसद बने थे
  • हरियाणा के पूर्व सीएम चौधरी देवीलाल ने 1980 में जेएनपी के सिंबल पर लोकसभा चुनाव जीतकर सांसद बने थे।
  • 1984 में कांग्रेस के धर्मपाल मलिक ने सोनीपत लोकसभा सीट पर ही विजयी होकर सांसद बने थे।
  • 1989 में जनता पार्टी के टिकट पर ही कपिलदेव शास्त्री विजय होकर सांसद बने थे। 
  • 1991 में कांग्रेस के धर्मपाल मलिक ने फिर से सोनीपत लोकसभा सीट पर बाजी मारकर सांसद बने थे।
  • इसके बाद फिर एचएलडी से एक बार भाजपा के टिकट पर दो बार यानि लगाातर तीन बार गौरव किशन सिंह सांगवान सांसद बने थे। जबकि 1996 में निर्दलीय के रूप में अरविंद शर्मा सांसद चुने गए थे।
  • कांग्रेस के जितेन्द्र मलिक जो कैलाना के विधाायक रहे और 2009 में सांसद बने।
  • भाजपा के टिकट पर लगातार दो बार 2014 और 2019 में रमेश कौशिक सांसद चुनकर संसद में पहुंचे। 
ALSO READ  Jind Police news : जींद पुलिस की नशा मुक्ति टीम ने गांव करसोला में लगाया नशा मुक्ति कैंप

 

ग्रामीण मतदाताओं पर दांव लगा रही है पार्टिंया

पिछले लोकसभा चुनावों (Sonipat Lok Sabha Seat News) से भाजपा को शहरी और कांग्रेस का ग्रामीण पार्टी माना गढ़ जाता था। पर अबकी बार इसमें भी काफी बदलाव दिख रहा है। भाजपा जहां गांवों में मतों के लिए प्रचार करनी पहुंची है तो कांग्रेस ने भी शहरों पर पकड़ मजबूत बनाने के लिए मतदाताओं से संपर्क किया है। क्योंकि गांव के बड़ी संख्या में लोग शहरों में रहने लगे है।

 

 

प्रचार करने में सरलता आई 

पहले के चुनावों में प्रचार अधिक समय लगता था। संसाधनों की कमी के चलते उम्मीदवार अपने संसदीय क्षेत्र के गांवों में 5 साल में भी एक बार नहीं पहुंच पाता था। मगर अब पहले वाला ट्रेंड बदल गया है, संसाधनों की कोई कमी न होने के कारण उम्मीदवार कम समय में भी सभी गांवों और शहरों में जनसभाएं कर रहे हैं। राष्ट्रीय स्तर के नेता भी दो-तीन राज्यों में पहुंच कर रैलियां कर रहे हैं, ये संसाधनों के कारण संभव हो पाया है।

ALSO READ  CBI raid : खाकी पर फिर लगा दाग : CBI ने सीआईए इंस्पेक्टर को पांच लाख रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

प्रचार में कोई भी पार्टी कमी नी छोड़ रही

लोकसभा चुनाव 2024 के प्रचार में भाजपा, कांग्रेस, इनेलो और जजपा उम्मीदवार पूरा जोर लगा रहे हैं। भाजपा के लिए जहां सीएम नायब सिंह सैनी और पूर्व सीएम मनोहर लाल की लगातार रैलियां व जनसभाएं कर रहे हैं। खुद प्रधानमंत्री ने भी यहां रैली करके 10 सीटों को फिर से साधने का प्रयास किया है। वहीं कांग्रेस से पूर्व सीएम भूपेन्द्र सिंह हुड्डा, प्रदेश अध्यक्ष उदयभान और प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया जी-जान से प्रचार में जुटे हुए हैं। पार्टी का कोई राष्ट्रीय नेता यहां आएगा या नहीं इस पर अभी संशय बना हुआ है। जबकि, जजपा की ओर से पूर्व डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला प्रचार की कमान संभाले हुए हैं।

किन मुद्दों पर चुनाव प्रक्रियां चल रही है ?

हरियाणा के सोनीपत सीट (Sonipat Lok Sabha Seat News) पर 25 मई को होने वाला लोकसभा आम चुनाव पहले के 12 चुनाव से भिन्न है। लोकसभा के पहले चुनावों में एक दो मुद्दा को छोड़कर क्षेत्र में विकास के मुद्दों पर जनसभाएं होती थी। पहले किसी भी दल का उम्मीदवार प्रत्येक गांव में नहीं जा पाता था। किंतु अब समय बदल गया है, प्यासे के पास कुंआ चलकर आ रहा है। यानि गांव में ही नहीं मतदाता के घर में दस्तक देने का ट्रेंड बढ़ता जा रहा है। इस दौरान लोकसभा उम्मीदवारों के सामने लोग अब भ्रष्टाचार, महंगाई, बेरोजगार, विकास न होना और अपराधिक मामले बढ़ने को बड़ा मुद्दा रख रहे हैं।

ALSO READ  Haryana Crime news : हरियाणा में एक युवक के पास 190 डेटोनेटर और 4 क्विंटल विस्फोटक बरामद, करने वाला था ये काम

सोनीपत लोकसभा सीट पर कौन-कौन उम्मीदवार है ?

1 भाजपा से उम्मीवार मोहनलाल बडौली है।
2 जजपा से उम्मीदवार भूपेन्द्र मलिक है।
3 कांग्रेस से उम्मीदवार सतपाल ब्रह्मचारी है।
4 इनेलो से उम्मीदवार पूर्व एसपी अनूप सिंह दहिया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *