Court awarded death sentence to the murderers of Dingarheadi murder case, awarded death sentence to four accused of Kulhadi gang.

Haryana Crime news : डिंगरहेडी हत्याकांड के हत्यारों को कोर्ट ने दी सजा-ए-मौत, कुल्हाड़ी गैंग के चार आरोपियों को सुनाई सजा ए मौत

Haryana Crime news : हरियाणा के कई वर्षों के गहन संघर्ष के बाद मिला पीड़ित परिवार को इंसाफ। हरियाणा के बहुचर्चित डिंगरहेडी सामूहिक दुष्कर्म में दोहरी हत्याकांड में करीब साढ़े 7 साल बाद पीड़ित परिवार के पक्ष में इंसाफ आया है। मामले में पंचकूला स्थित हरियाणा की विशेष सीबीआई कोर्ट ने इस मामले के चारों गुनाहगार विनय उर्फ लंबू, जयभगवान, हेमंत चौहान और अयान चौहान को फांसी की सजा सुनाई है।

 

6 आरोपियों को बरी किया था

बता दें कि 10 अप्रैल 2024 को सीबीआई कोर्ट की ओर से इन चारों आरोपियों को गुनाहगार (Haryana Crime news) साबित कर दिया गया था। दरसल, 6 आरोपियों को बरी किया गया था। इस मामले में 10 आरोपी न्यायिक हिरासत में थे। सीबीआई कोर्ट ने तेजपाल, अमित, रविंद्र, कर्मजीत, संदीप और राहुल वर्मा को किया बरी था। वहीं एक आरोपी अमरजीत पैरोल पर आने के बाद लापता हो गया था, जिसकी गिरफ्तारी अभी बाकी है।

ALSO READ  Haryana Lok Sabha election : सर्वखापों ने लिया मीटिंग में फैसला, गांवों में भाजपा-जजपा नेताओं के आने पर होगा बहिष्कार

 

दो युवतियों के साथ हुआ था गैंगरेप

तावडू क्षेत्र के गांव डिंगरहेडी में वर्ष 2016 में 24 और 25 अगस्त की रात “कुल्हाड़ी गैंग” के बदमाशों ने दोहरे हत्याकांड सहित एक नाबालिक सहित दो युवतियों के साथ सामूहिक रेप जैसी जघन्य अपराध को अंजाम दिया था। इसी दौरान आरोपियों ने दो युवतियों के साथ गैंगरेप के अलावा दंपति की हत्या कर परिवार के पांच लोगों को घायल कर खून (Haryana Crime news) से लथपथ वहीं छोड़कर भाग गए थे। ऐसे में आरोपियों पर आईपीसी की धारा 376D, 302, 325, 326, 397, 459, 460 और पोस्को एक्ट के तहत दोषी करार दिया गया था।

 

एक आरोपी ने की आत्महत्या

बता दें की, साल 2016 में 24 और 25 अगस्त की रात सामूहिक बलात्कार सहित दंपति की हत्या हुई थी। CBI की ओर से की इस मामले में गहनता से जांच की गई। मामले की जांच के बाद 12 लोगों को मुख्य आरोपी बनाया गया था। पर एक आरोपी ने बाद में सीबीआई की ओर से तलब किए जाने पर आत्महत्या कर ली थी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *