फतेहाबाद जिले में 21 पंचायतें, 13 ब्लॉक समिति, एक जिला परिषद वार्ड होंगे बीसी-ए के लिए रिजर्व

फतेहाबाद। आखिरकार पंचायती चुनाव को लेकर तेजी शुरू हो गई है। 28 सितंबर को बीसी-ए वर्ग के लिए जिला परिषद के वार्ड का ड्रा होगा। 29 सितंबर से पहले-पहले जिले की सभी पंचायतों, ब्लाक समिति, जिला परिषद के लिए ड्रा हो जाएंगे। जिला परिषद का एक वार्ड बीसी-ए के लिए आरक्षित होना है। इसके लिए वार्ड 2, 4 व 7 के नंबर की पर्ची डाली जाएगी। 259 में से 21 पंचायतों के सरपंच पदों के ड्रा भी बीसी-ए वर्ग के लिए रिजर्व होने हैं। जिला परिषद के कुल 18 में से 6 वार्ड पहले ही अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हो चुके हैं।

ड्रा वाले जिप वार्डों का डेटा: वार्ड 2: जिला परिषद के वार्ड नंबर 2 में भट्टूकलां, भट्टूमंडी, मेहुवाला, शेखुपुर दड़ौली, सुलीखेड़ा, ढांड, बनावाली ग्राम पंचायतें शामिल हैं। इस वार्ड की कुल आबादी 41256 है, जिसमें से बीसी-ए की आबादी 19.75 फीसदी यानि 8150 है।
वार्ड-4: जिला परिषद के वार्ड नंबर 4 में भोडिय़ाखेड़ा, बीघड़, बेगुमोरी, बीघड़-1, बीघड़-2, खालमखेड़ा, ढाणी मिखां खां, चबलामोरी, आजादनगर, भोडा होसनाक, चिदड़, धारनियां, खाराखेड़ी, मताना पंचायतें शामिल हैं। इस वार्ड की कुल आबादी 49601 है। इसमें से बीसी-ए की आबादी 20.23 फीसदी यानि 10032 है।
वार्ड 7: जिला परिषद के वार्ड-7 में दरियापुर, शेखाढाणी, करनोली, अहलीसदर, भड़ोलावाली, भट्टूखुर्द, दौलतपुर, ढाणी छतरियां, ढाणी ईसर, ढाणी ढाका, हरिपुरा, हिजरवां कला, अकांवाली, हिजरवाखुर्द, खान मोहम्मद, ढाणी गोमाराम, मुस्सेअहली, बनावाली सौत्र, कारियां, नखाटिया, रत्ताटिब्बा, थेड़ी व बहबलपुर गांव शामिल है। इसमें कुल आबादी 42765 है जिसमें से बीसी-ए 21.18 फीसदी यानि 9059 है।

ALSO READ  इंद्रपुरा में युवक का मर्डर: परिजनों ने डॉक्टर पर लगाए लापरवाही के आरोप, धरना

ऐसे अरक्षित होंगे पंच, जिप और ब्लॉक समिति के वार्ड: जिला परिषद, ब्लॉक समिति और पंच में बीसी-ए रिजर्वेशन करते समय संंबंधित जिले, ब्लॉक और गांव की कुल बीसी-ए जनसंख्या देखी गई है। कुल जनसंख्या में जितनी जनसंख्या बीसी-ए की है उसके आधे को आधार मानकर उसी प्रतिशत के आधार पर वार्ड रिजर्व किये गए हैं। अब रिजर्व हुए वार्डों के तीन गुणा की पर्ची डालकर ड्रा के माध्यम से तय किया जाना है।

प्रत्येक ब्लॉक में बीसी-ए के बनेंगे 8 प्रतिशत सरपंच : नये नियम के तहत सरंपच पद के लिए प्रत्येक ब्लॉक की 8 प्रतिशत पंचायतें बीसी-ए के लिए आरक्षित की जाएंगी। जैसे कि फतेहाबाद खंड में 49 ग्राम पंचायतें हैं, इनमें से 8 फीसदी 3.92 यानि 4 पंचायतें बीसी-ए के लिए रिजर्व होंगी। ये 4 पंचायतें रिजर्व करने के लिए बीसी-ए की अधिकतम आबादी वाली 12 पंचायतों को ड्रा में शामिल की जाएंगी।

ALSO READ  हंस मार्केट रेहड़ी वाले पहुंचे नगर परिषद : बोले 20-25 स्थायी, बाकियों पर कार्रवाई करे प्रशासन

किस खंड में रिजर्व होंगी कितनी पंचायतें: जिले की 21 ग्राम पंचायतों के सरपंच पद बीसी-ए के लिए रिजर्व होंगे। इनमें से रतिया, टोहाना और फतेहाबाद में 4-4, भट्टू, भूना और जाखल में 2-2 तथा नागपुर में तीन पंचायतें के सरपंच पद पिछड़ा वर्ग-ए के लिए आरक्षित होंगे।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *