INLD Rally Fatehabad

इनेलो की रैली में फतेहाबाद में पहुंचे कई राष्ट्रीय नेता, कौन क्या बोला, पढि़ए

फतेहाबाद। पूर्व उपप्रधानमंत्री स्व. ताऊ देवी लाल के जन्मोत्सव पर फतेहाबाद में आयोजित ‘सम्मान दिवस रैलीÓ में हजारों की की संख्या में लोग पहुंचे। रैली में राष्ट्रीय स्तरीय कई नेता पहुंचे, जिनमें बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार, डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव, महाराष्ट्र से शरद पंवार, शिवसेना से अरविंद पंवार, पंजाब से सुखबीर बादल, माकपा से सीताराम येचुरी, त्रिपुरा से मेवार सिंह जमातिया शामिल रहे। वहीं सबसे ज्यादा जोरदार भाषण तेजस्वी यादव का रहा। इस अवसर पर इनेलो सुप्रीमो चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने कहा कि हमारा किसी से द्वेष, विरोध और व्यक्तिगत या राजनैतिक स्वार्थ नहीं है, हम तो जननायक के स्वप्न को साकार करने के पक्षधर हैं।

INld Rally fatehabad

प्रजातांत्रिक प्रणाली में जनता के समर्थन से सरकारें बनती है और सरकार का ये दायित्व बनता है कि वो लोगों की मूलभूत जरूरियात पूरी करे। जनता को रोजी-रोटी, रहने के लिए घर, अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाएं दे। अगर जो सरकार ऐसा न करे उसे जनता बदल देती है। इनेलो की सरकार बनने पर मैं इस स्थिति को ही बदल दूंगा कि ‘सरकार आपके द्वार’ आया करेगी। इनेलो सरकार के दौरान मैं ‘सरकार आपके द्वार गांव-गांव जाया करता था और मौके पर ही समस्याओं का समाधान किया जाता था। उन्होंने कहा कि आज नया निर्णय ले लो कि इस कुशासन का अंत किया जाए।

बुढापा पेंशन 10 हजार, बेरोजगारी भत्ता 21 हजार करेंगे

उन्होंने घोषणा करते हुए कहा कि इनेलो सरकार बनने पर बुढ़ापा सम्मान पेंशन दस हजार, महिलाओं को प्रति माह एक हजार, बेरोजगारी भत्ता 21 हजार रुपए प्रति माह दिए जाएंगे। सालभर के अंदर ही एसवाईएल नहर का पानी हरियाणा की प्यासी धरती को दिया जाएगा। गरीब लोगों को अनेक सुविधाएं प्रदान करेंगे। कृषि कानूनों खिलाफ आंदोलन में शहीद हुए किसानों का जलियांवाला बाग की तर्ज पर स्मारक बनाया जाएगा। ई-नेम प्रणाली को समाप्त किया जाएगा और आढ़तियों को कमीशन तीन प्रतिशत किया जाएगा। किसानों की सभी फसलें सिर्फ मंडियों में ही खरीदी और बेची जाएंगी।

ALSO READ  फतेहाबाद जिला परिषद वार्ड 4 हुआ पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित, देखिए सभी वार्डों की स्थिति

अभय चौटाला ने किया सबका अभिनंदन

Abhay Chotala

अभय सिंह चौटाला ने रैली में पहुंचे सभी नेताओं का रैली में पहुंचने पर अभिनंदन करते हुए आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि पूरे देश के विपक्षी दल आज यहां एकजुट हुए हैं और आने वाले समय में भाजपा को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाएंगे। उन्होंने रैली को सफल बनाने के लिए पार्टी के पदाधिकारी, कार्यकर्ता, रैली में आई महिलाओं और रैली में उपस्थित लाखों लोगों का आभार व्यक्त किया।

देवीलाल समाज को समर्पित थे: शरद पंवार

sharad panwar

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री शरद पंवार ने कहा कि आज के दिन हम ऐसे व्यक्ति की जयंती मनाने के लिए इक_ा हुए हैं जिसने किसान, गरीब और मजदूरों की भलाई के लिए अपनी जिंदगी समर्पित की। उन्होंने कहा कि उन्हें खुशी है कि उन्हें अपनी जीवन में चौधरी देवी लाल के साथ काम करने का मौका मिला। चौधरी देवी लाल चाहे मुख्यमंत्री रहे या फिर कृषि मंत्री रहे, उनके काम करने का तरीका कैसे समाज के लोगों का भला हो, उसके लिए समर्पित था। एक समय ऐसा था जब विदेशों से अनाज लाना पड़ता था लेकिन किसानों ने अपना खून-पसीना एक कर आज देश की स्थिति को बदल दिया है।

उसूल की राजनीति चौ.देवीलाल से सीखी: येचुरी

सीपीआई के वरिष्ठ नेता सीता राम येचुरी के कहा कि उनके लिए ये गर्व की बात है कि इनेलो सुप्रीमो ने स्व. ताऊ देवी लाल की जयंती पर आयोजित सम्मान दिवस रैली में आमंत्रित किया। उन्होंने कहा कि उसूल के आधार पर राजनीति करना उन्होंने ताऊ देवी लाल से सीखा है। आज के दिन उसूलों के आधार पर राजनीति खत्म होती जा रही है।

जेपी आंदोलन में ताऊ के साथ काम किया: नितीश

nitish yadav

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सम्मान दिवस रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि उन्हें 2016 में सम्मान दिवस रैली में आने का मौका मिला था। आज फिर से यहां आने पर उन्हें बहुत खुशी हुई। जेपी आंदोलन में उन्हें ताऊ देवी लाल के साथ काम करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। ताऊ देवी लाल ने हम को बहुत आशीर्वाद दिया। मुख्यमंत्री रहते हुए ताऊ जब बिहार आए थे तब इतने लोग इक_े हुए कि उन्हें पटना पहुंचने में घंटों लग गए थे। 1989 में लोकसभा चुनाव में भी ताऊ देवी लाल उनके प्रचार के लिए पहुंचे थे।

ALSO READ  पोल और बोर्ड के बाद अब स्वागत द्वार गायब

आज हम सब जिन कुर्सियों पर बैठे, वे ताऊ की देन: तेजस्वी

tejaswi Yadav
बिहार के उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने सबसे पहले स्व. ताऊ देवी लाल और सर छोटू राम को नमन् किया एवं लालू प्रसाद यादव की तरफ से ताऊ देवी लाल को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि बिहार से चलकर यही संदेश देने के लिए आए हैं कि आज वो जिस कुर्सी पर बैठे हैं वो ताऊ देवी लाल की ही देन है। ताऊ देवी लाल ने समाजवाद की विचारधारा को आगे बढ़ाया। आज देश की जो स्थिति है वो किसी से छुपी नहीं है। भाजपा सभी पार्टियों को खत्म करना चाहती है। हरियाणा के किसानों और जवानों ने इन संघियों को अच्छे से सबक सिखाने का काम किया। कृषि के काले कानूनों के खिलाफ किसानों ने आंदोलन किया और प्रधानमंत्री को कानून वापिस लेने के लिए मजबूर किया। उन्होंने अभय सिंह चौटाला की सराहना करते हुए कहा कि पूरे देश में वो एकमात्र विधायक थे जिन्होंने किसानों के हक में अपने विधायक के पद से इस्तीफा दिया।

तेजस्वी ने कहा कि भाजपा बेरोजगारी और महंगाई पर बात नहीं करती। वो सिर्फ हिंदू-मुस्लिम, मंदिर और मस्जिद पर बात करती है। एक समय ऐसा था जो इस मंच पर मौजूद सभी पार्टियां एनडीए का हिस्सा होती थी लेकिन एक-एक कर सभी एनडीए से बाहर हो गए। आज यहां मंच पर जितनी भी पार्टियों के नेता बैठे हैं वो लोकतंत्र को बचाने के लिए इक्कट्ठा हुए हैं। भाजपा ने रेलवे, हवाई अड्डे और पोर्ट समेत सरकारी सम्पत्तियां बेच दीं। पहले भाजपा को महंगाई ‘डायन’ लगती थी लेकिन अब वही महंगाई ‘भोजाई’ नजर आती है। उन्होंने कहा कि बीजेपी का मतलब ‘बडक़ा झूठा पार्टी’ है।

ALSO READ  बेटे से मिलने आस्ट्रेलिया जाना था, लेकिन भगवान को कुछ और ही मंजूर था

इनेलो और अकाली दल सगे भाई: सुखबीर

sukhbir badal
पंजाब के पूर्व उप-मुख्यमंत्री सुखबीर बादल ने रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि इनेलो और अकाली दल सगे भाई हैं। ये ऐसा रिश्ता है चाहे तूफान आए चाहे अंधेरी आए लेकिन दोनों इक्कट्ठे रहे। उन्होंने कहा कि चौधरी चरण सिंह, ताऊ देवी लाल, स. प्रकाश सिंह बादल और शरद पंवार, इन चारों ने किसानों के हक की आवाज उठाई और आज जो हालात देश के हैं, उसमें किसानों से किए गए सारे वायदे भाजपा वाले भूल गए हैं।

सत्यपाल मलिक ने भेजा वीडियो संदेश

मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने वीडियो संदेश भेजकर ताऊ देवी लाल को श्रद्धांजलि अर्पित की और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि ताऊ देवी लाल और चौटाला साहब मेरे विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए आए थे और वो स्वयं भी प्रचार के लिए रोड़ी विधानसभा चुनाव में गए थे।

उद्धव ठाकरे के प्रतिनिधि के रूप में पहुंचे अरविंद

उद्धव ठाकरे की तरफ से शिवसेना के मौजूदा सांसद अरविंद सावंत रैली में पहुंचे। मिजोरम के पूर्व मंत्री और मौजूदा विधायक मेवर कुमार जमातिया, केसी त्यागी रैली में पहुंचे। जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला स्वास्थ्य ठीक न होने की वजह से नहीं आ सके। उन्होंने लिखित संदेश भेजकर ताऊ देवी लाल को श्रद्धांजलि दी। वहीं उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक स्वास्थ्य ठीक न होने के कारण रैली में नहीं पहुंच सके और लिखित संदेश भेजकर ताऊ देवी लाल को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान राष्ट्रवादी जन लोक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शेर सिंह राणा और पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा भी मंच पर मौजूद रहे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *