फतेहाबाद जिले में चला बुलडोजर: नशा तस्करी में संलिप्त दो भाइयों के मकान को तोड़ा

जाखल/अशोक गर्ग। जाखल के वार्ड नंबर 6 बाजीगर बस्ती में नगर पालिका प्रशासन द्वारा पुलिस के कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बीच 11 मरले में बने एक मकान को ध्वस्त कर दिया। मकान को अवैध रूप से बताया गया बताया जा रहा है, लेकिन चर्चाएं इस बात की ज्यादा हैं कि यहां रहने वाले दो भाई नशे के कारोबार में संलिप्त हैं। दोनों भाइयों पर कई मामले चल रहे हैं। ऐसे में मकान को गिराने की यह कार्रवाई नशा तस्करी से जोड़कर देखी जा रही है। खबर में वीडियो लिंक लास्ट में है..

उक्त कार्रवाई को लेकर जाखल पुलिस थानों में 75 पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई। जिसमें ड्यूटी मजिस्ट्रेट के तौर पर खंड विकास पंचायत अधिकारी संदीप भारद्वाज, नगर पालिका सचिव महावीर सिंह, जाखल थाना प्रभारी जय भगवान, फतेहबाद से इंस्पेक्टर विक्रम जोसन के नेतृत्व में पुलिस बल व अन्य कर्मचारी दल बल के साथ सुबह 11 बजे बस्ती में पहुंचे। जहां मकान अंदर से बंद मिला पुलिस द्वारा गेट के ऊपर से अंदर जाकर इसे खोलते हुए सारे मकान की तलाशी ली गई। हालांकि मकान में कोई भी व्यक्ति नहीं मिला लेकिन इसके पीछे बने प्रांगण में घर का तमाम सामान पड़ा हुआ था लेकिन घर में कोई भी ना मिलने पर कुछ ही देर बाद दो बुलडोजर की सहायता से इसे गिराने की कार्रवाई शुरू कर दी गई।

ALSO READ  भट्टूकलां पुलिस ने चुनाव के दौरान शराब से भरी कार पकड़ी, दो व्यक्तियों को किया गिरफ्तार

देखते ही देखते 11 मरले पर बने इस मकान को पूरी गिरा दिया गया। उक्त कार्रवाई को देखते हुए मौके पर अनेक बस्ती वासी भी एकत्रित हो गए यहां मौजूद जाखल गांव के पूर्व सरपंच नवजोत सिंह सिंह ने कहा कि गांव की इस बस्ती में निवासी जगसीर सिंह जी एवं इसके भाई रंजीत सिंह ने लंबे समय से नशा तस्करी करते हुए ना केवल अपनी अनेक नाजायज संपत्ति को बनाया है बल्कि लोगों के घर भी उजाड़े हैं आज उनके घर उजड़ रहे हैं तो हमें इस बात से संतुष्ट है कि प्रशासन ने कार्रवाई अत्यंत निष्पक्षता पूर्ण की है नशा तस्करों पर की गई।

नगरपालिका सचिव महावीर सिंह का कहना है कि नगर पालिका की जमीन पर अवैध रूप से कब्जा करने के मामले में यह कब्जा हटाओ कार्रवाई की गई है इसके अलावा अन्य कारण कि हमें जानकारी नहीं है या कार्रवाई म्युनिसिपल एक्ट 1973 के तहत की गई है इससे पहले मकान मैं रहने वाले लोगों को दो बार नोटिस भी जारी किया गया था लेकिन इसके बावजूद मकान को यहां से नहीं हटाया गया जिसके बाद आज पुलिस प्रशासन की मदद से यह कार्रवाई की गई है।

ALSO READ  ट्रेन से महिला को धक्का मारा, मौत, खुद भी कूदा

वहीं बीडीपीओ का कहना है कि नगर पालिका की जमीन पर किया था कब्जा जिस मकान को गिराया गया है वह मकान नगर पालिका की जमीन पर अवैध रूप से बनाया गया था। इस में रह रहे लोगों को बकायदा नियमानुसार नोटिस भी जारी किए गए थे उसी के तहत कार्रवाई करते हुए आज इस मकान को गिराए जाने की कार्रवाई की गई है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *