CJI Chandrachud released Supreme Court's WhatsApp number, now your big tasks will become easy

Supreme Court WhatsApp No. : CJI चंद्रचूड़ ने जारी किया सुप्रीम कोर्ट का WhatsApp नंबर, अब आपके बड़े काम हो जाएंगे आसान

Supreme Court WhatsApp No. : देश की सर्वोच्च अदालत में, यानि सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने अपना आधिकारिक वॉट्सऐप नंबर (Supreme Court official WhatsApp Number) जारी किया है। भारत के प्रधान न्यायाधीश डीवाई चंद्रचूड़ (CJI Chandrachud) ने गुरुवार को इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा वॉट्सऐप मैसेज के जरिए वकीलों को वाद सूची, केस दाखिल करने और सुनवाई के लिए सूचीबद्ध होने की जानकारी दी जाएगी।

 

 

 

क्या है वॉट्सऐप नंबर

87676-87676 वाह नंबर तो वाकई में शानदार है। वॉट्सऐप नंबर से अब वकीलों को केस दाखिल होने के बारे में आटोमेटेड मैसेज मिलेगा। इसके अलावा वकीलों को वाद सूची का नोटिफिकेशन भी मोबाइल पर मिलेगा। वाद सूची का मतलब है कि, कोर्ट में सुनवाई के लिए उस दिन लगे मुकदमों की सूची, सुप्रीम कोर्ट का आधिकारिक वॉट्सऐप नंबर (Supreme Court WhatsApp No. ) जारी करते हुए Justice Chandrachud ने कहा,

75वें वर्ष में सुप्रीम कोर्ट ने वॉट्सऐप मैसेजिंग सेवाओं को IT सर्विस के साथ एकीकृत करके न्याय तक पहुंच को मजबूत करने की नयी पहल शुरू की है। इससे और अधिक वकीलों की सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच बढ़ेगी. साथ ही दूर दराज रहने वाले लोगों को भी कोर्ट कार्यवाही की सूचना मिल सकेगी।

छवि

छवि

 

वकीलों को इसके साथ Electronic filing, Causelists ऑर्डर और जजमेंट से जुड़े नोटिफिकेशन भी इसी ऐप पर मिलेंगे। लेकिन क्या इस नंबर पर आम नंबरों जैसे बतिया भी सकते हैं। जवाब है नहीं, क्योंकि ये वन-वे कम्युनिकेशन नंबर है। मतलब सिर्फ इनकमिंग मैसेज. इस नंबर से कोई रिप्लाई नहीं मिलेगा और ना कॉल बैक जैसी सुविधा।

 

आटोमेटेड मैसेज किसी मामले के सफलतापूर्वक दाखिल होने पर प्राप्त होंगे। इसमें दर्ज मामलों में रजिस्ट्री द्वारा चिह्नित आपत्तियों के बारे में अधिसूचनाएं भी शामिल हैं। वेबसाइट पर उपलब्ध आदेश और निर्णय भी वॉट्सऐप के माध्यम से भी भेजे जाएंगे।

ALSO READ  Federation Cup Event 2024 : हरियाणा के छोरे नै एक और किया धमाल, नीरज चोपड़ा ने फेडरेशन कप में जीता गोल्ड

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *