Mughal harm : मुगल हरम में ऐसी क्या चीजें परोसी जाती थी, जिससे मुगल बादशाहों की ताकत बढ़ती थी ! आए जानें इसके बारें में

Mughal harm : मुगल हरम में ऐसी क्या चीजें परोसी जाती थी, जिससे मुगल बादशाहों की ताकत बढ़ती थी ! आए जानें इसके बारें मेंकेंद्र सरकार के द्वारा नई शिक्षा नीति के तहत किताबों के इतिहास में बेशक मुगलकाल हटा दिया गया हो, लेकिन मुगलकाल के बारें में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जमकर पोस्टींग वायरल होती हैं। इस बीच हम आपकों मुगल बादशाहों की दावत में मुगल हरम की चीजों के बारें में बता रहें हैं, जिससे मुगल बादशाहों की ताकत बढ़ती थी।

 

मुगल हरम में खाने की क्या चीजें होती थी ?

मुगलकाल में मुगल बादशाह अपनी शारिरिक ताकत को बढ़ाने के लिए ऐसी (Mughal harm) चीजें खाते थे, जो आयुर्वेद में कमजोरी के लिए अति प्रिय मानी गई हैै। बता दें कि, मुगल अपनी ताकत बढ़ानेे के लिए खानपान पर विशेष ध्यान देते थे और हाई प्रोटीन के साथ कई तरह की जड़ी-बूटियों का सेवन भी करते थे। वहीं मुगल खजूर का सेवन रोज करते थे, भीगे खजूर शारीरिक कमजोरी दूर कर हीमोंग्लोबिन बढ़ाते हैं।

ALSO READ  Mutual Fund Scheme News : करोड़ों रूपए का रिटर्न देकर Mutual Fund बना सकता है लोगों काे करोड़पति, आए जानें कैसे

मुगल शासक रोज रात में खाने के बाद दूध के साथ अंजीर पका कर खाते थे, अंजीर एनर्जी का पावर हाउस माना जाता है। इसके अलावा वें लौंग को दूध में उबाल कर पिया करते थे, जिसमें कैल्सियम, पोटेशियम होता है! जो शरीर को नई एनर्जी से भर देती है।

मुगल हरम (Mughal harm) में दालचीनी और इलायची वालेे दूध भी स्वीट डिश में शामिल थे। क्योंकि ये चीजें मूड के साथ थकान को भी दूर करती हैं। इसके साथ ही अश्वगंधा, शतावरी और शिलाजीत जैसी जड़ियां भी मुगलकाल में खाई जाती थीं, ये तीनों ही पुरूषों और महिलाओं दोनों की शारीरिक कमजोरी को दूर करती हैं।

पाठक अवश्य ध्यान दें, यह खबरी गंधाश केवल आपको सूचित करने के लिए है। इस मुगल हरम (Mughal harm)  में शामिल सभी खाने की सामग्री पर अमल करने से पहले अपने विशषज्ञ डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *