kuldeep bishnoi tweet

कुलदीप का ट्वीट: एमपी के वन्य अधिकारी बोले राजस्थान से चीतल लाने की खबरें गलत

कुलदीप का ट्वीट: एमपी के वन्य अधिकारी बोले राजस्थान से चीतल लाने की खबरें गलत
फतेहाबाद। नामीबिया से आए चीतों को चीतल व हिरण परोसे जाने की खबरों के बीच मध्य प्रदेश के मुख्य वन्य प्राणी अभिरक्षक एवं प्रधान मुख्य वन संरक्षक जसबीर सिंह चौहान ने खुलासा किया है कि राजस्थान या कहीं से भी कोई चीतल या हिरण लाकर कूनो नेशनल पार्क में नहीं छोड़े जा रहे, इस संबंध में मीडिया पर आ रही खबरें तथ्यहीन हैं।

यह जानकारी भाजपा नेता कुलदीप बिश्नोई ने आज टवीट के माध्यम से शेयर करते हुए कहा है कि लोग उनकी केंद्र सरकार से बात के बाद जसबीर सिंह ने आधिकारिक रूप से पुष्टि कर दी है कि किसी हिरण या चीतल को नहीं भेजा गया। कुलदीप बिश्नोई ने अपील की कि इस मामले में फैलाई जा रही झूठी खबरों से सावधान रहें। कुलदीप बिश्नोई ने जसबीर सिंह द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति साझा की है। जिसमें मुख्य वन्य प्राणी अभिरक्षक जसबीर सिंह चौहान ने कहा है कि कूनो नेशनल पार्क में हिरण चीतल छोडऩे की जो भी खबरें हैं, उसमें सत्यता नहीं है।

ALSO READ  बड़ा खुलासा: कोई लिक्विड सोनाली को पिलाया गया

राजस्थान से कोई चीतल नहीं लाया गया। अंतर्राज्यीय वन्य प्राणियों के स्थानांतरण हेतु भारत सरकार एवं दोनों राज्य सरकारों की सहमति जरूरी होती है। इसलिए राजस्थान से चीतल लाए जाने की पुष्टि राजस्थान सरकार के अधिकारियों से की जा सकती है। कूनो में ही इस समय 20 हजार से ज्यादा चीतल मौजूद हैं तो चीतल अन्य जगह से लाना एक कल्पना मात्र है।

प्रदेश में कई ऐसे जंगल हैं, जहां चीतलों की संख्या अधिक बढ़ गई है। जिससे उनके चारे की समस्या होती है। ऐसे मेें उन्हें ऐसे नेशनल जंगलों में छोड़ा जाता है, जहां चारे पानी की व्यवस्था ज्यादा हो। ऐसे में कई जंगलों से चीतल निकालकर सतपुड़ा जंगल, संजय गांधी जंगल, कूनो तथा नोरादेही अभ्यारण भेजे गए थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *