दुनिया के सबसे गंदे आदमी की मौत, बिना नहाए 50 साल जिआ, नहाया तो मरा

तेहरान। आप यह पढ़कर यकीन नहीं करोगे कि दुनिया के सबसे गंदे आदमी की 94 वर्ष की आयु में मौत हो गई है। पिछल् 50 साल से अधिक समय से बिना नहाये रह रहे इस शख्स को कुछ समय पहले ग्रामीणों ने पकड़कर नहला दिया था और कुछ ही दिनों बाद उसकी अब मौत हो गई है। इस व्यक्ति ने उस थ्योरी को गलत साबित किया है कि साफ स्वच्छ रहने से हम निरोग रहते हैं। यह व्यक्ति गंदगी युक्त जीवन भी 94 वर्ष तक जीआ। इतना ही नहीं अमो हाजी नामक इस शख्स ने न केवल 50 साल तक पानी और साबुन से दूरी बनाई बल्कि वह सड़ा गला मांस खाता था और गंदा पानी पी रहा था। उसे डर था कि वह सफाई से बीमार हो सकता है। यह आदमी इरान के दक्षिणी प्रांत फारस में रहता था।

ALSO READ   Microsoft Company News : अमेरिका की कंपनी माइक्रोसॉफ्ट को लगा बड़ा झटका, अमेरिकी अदालत ने 24 करोड़ डॉलर का ठोका जुर्माना
पूरा शरीर पड़ चुका था काला

लोगों ने उसे काफी बार साफ सफाई के लिए कहा, लेकिन वह हमेशा इनकार कर देता था। उनके दबाव में ही वह कुछ दिन पहले नहाया तो बाद में उसकी मौत हो गई। नहाने के कुछ समय बाद वह बीमार हो गया और रविवार को उसने दम तोड़ दिया। वह गड्ढे में ईंटों की झोपड़ी बनाकर रहता था और नहाए न होने के चलते उसका पूरा शरीर काला पड़ चुका था। नहाने की बात से ही वह उदास हो जाता था। लंबे समय तक न नहाने का रिकॉर्ड भी उसके नाम है।

असफल हुआ तो नहाया नहीं

आपको बता दें कि 2009 में भारत के भी एक व्यक्ति ने दावा किया था कि उसे 35 साल हो गए बिना ब्रश किए और नहाए। लेकिन उसके आगे का डेटा उपलब्ध नहीं है। तेहरान की मीडिया के अनुसार हाजी जब युवा था, तब वह असफलताओं से परेशान होकर ऐसा रहने लगा। सर्दी से बचने के लिए वह युद्ध में प्रयोग होने वाला हेलमेट पहने रहता था। उसे धुम्रपान करने की बुरी तरह से लत लगी हुई थी। जब सिगरेट नहीं होती थी तो वह पाइपों के टुकड़ों में जानवरों का मल भरकर उसका धुम्रपान करता था।

ALSO READ  Moto G54 5G Launch : 108MP कैमरा कॉलिटी वाला ये स्मार्टफोन, धांसू और दमदार बैटरी 7800mAh के साथ मिल रहा है। जल्द करें ऑफर
जानवरों के मल से धूम्रपान की लत

तेहरान टाइम्स की मुताबिक, अपनी युवावस्था में कई ‘असफलताओं’ का सामना करने के बाद हाजी ने इस तरह का जीवन जीने का फैसला किया। वह एक वॉर हेलमेट पहनकर रखते थे ताकि वह सर्दी से खुद को बचा सकें। उन्हें ध्रूमपान की बहुत बुरी लत थी। अक्सर वह जंग लगे पाइप के टुकड़ों में जानवरों का मल भरकर उससे ध्रूमपान करते थे। वह कहते भी थे कि नहाने से वह बीमार पड़ सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *