दिल्ली में फिर श्रद्धा जैसा मर्डर: पत्नी और पुत्र ने हत्या कर शव के 10 टुकड़े, रोजाना रात को फेंकने जाते

नई दिल्ली। दिल्ली में एक बार फिर श्रद्धा मर्डर जैसी हत्या की घटना सामने आई है। इस वारदात में महिला ने अपने पुत्र के साथ मिलकर अपने पति की हत्या कर दी और शरीर के 10 टुकड़े कर कई दिनों तक फ्रिज में रखा। बाद में इन टुकड़ों को रोजाना आसपास के इलाकों में फेंकती रही। इस घटना के सीसीटीवी फुटेज भी मिले हैं, जिसमें एक युवक बैग में कुछ ले जाता दिख रहा है और उसकी मां पीछे दिख रही है। पुलिस ने इसके बाद मृतक के शव के टुकड़ों की फोटो भी जारी कर दिए हैं, जिनमें कई टुकड़े और सिर नजर आ रहा है।

 

पुलिस ने आज पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि त्रिलोकपुरी निवासी अंजन दास की हत्या की गई है और हत्या करने वाली कोई और नहीं उनकी दूसरी पत्नी है, साथ ही उसका पुत्र यानि अंजन का सौतेला बेटा दीपक भी वारदात में शामिल है, दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार 5 जून को दिल्ली के पांडव नगर में पुलिस को झाडिय़ों में एक बैग में इंसान के शरीर के टुकड़े मिले थे। बाद में अंजन दास के कई माह से लापता होने की खबर सामने आई, जिनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट पूनम और दीपक ने कहीं दर्ज नहीं करवाई थी।

ALSO READ  सोनाली फौगाट के पैतृक गांव भूथनकलां में शोक की लहर, लोग बोले: उन्हें मारा गया है, जांच हो

पता चला है कि अंजन पर बेटी और बहू पर बुरी नजर रखने का शक था। पूनम व दीपक ने बताया कि उन्हें शक था कि अंजन दीपक की पत्नी और उनकी तलाकशुदा बेटी पर बुरी नजर रखता था, जो उनके साथ ही रह रही थी। पूनम ने बताया कि उसके पति कल्लू की मौत हो गई थी, जिसके बाद वह अंजन के साथ रहने लगी थी। मार्च और अप्रैल् में हत्या की साजिश रचनी शुरू की और 30 मई को अंजन को शराब व नींद की गोलियां दी गई। बेहोश होने पर उसके गले व शरीर के अन्य हिस्सों पर चाकू मारकर हत्या कर दी गई।

 

वारदात के बाद शव को वहीं छोड़ दिया, दूसरे दिन लहू साफ किया और फिर शव के 10 टुकड़े कर फ्रिज में रख दिया। रोजाना रात को वे टुकड़े बैग में भरकर आसपास इलाकों में फेंक आते थे। बदबू रोकने के लिए उन्होंने घर पर नया पेंट करवाया, सिर को गड्ढ़े में दबा दिया।

ALSO READ  तूड़ी वाले कोठे में लटके मिले युवक और युवती के शव

आपको बता दें कि बीते दिनों श्रद्धा का मर्डर कांड सामने आया था, जहां उसके लिव इन पार्टनर आफताब द्वारा मई माह में उसकी हत्या कर शव के 35 टुकड़े कर कई दिनों तक जंगलों में फेंकने की बात सामने आई थी। दोनों हत्याओं के मामले मई के आसपास के सामने आए और दोनों मामलों में महीनों बाद खुलासा होने पर जांच शुरू की गई।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *