Will have to wait for three months to travel on Delhi-Katra Expressway

Haryana Sonipat News : दिल्ली-कटरा एक्सप्रेस-वे पर यात्रा के लिए तीन माह करना होगा इंतजार

Haryana Sonipat News : भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य पूरा करने की समय सीमा फिर बढ़ाई गई है। जबकि, पहले इसे जनवरी तक पूरा करना था। अब कार्य पूरा नहीं होने पर मार्च और अब फिर समयसीमा बढ़ाकर जून कर दिया गया है। एक्सप्रेस-वे तैयार होने के बाद वाहन 120 किमी प्रति घंटे की तेज रफ्तार से चल सकेंगे। एक्सप्रेस-वे से दिल्ली से कटरा जाने का समय में 12 से 14 घंटे से घटकर 6 से 7 घंटे रह जाएगा।

 

भारत माला परियोजना के मुताबिक, 670 किलोमीटर लंबे दिल्ली-कटरा एक्सप्रेस-वे का निर्माण 39 हजार करोड़ रुपये से किया जा रहा है। ये एक्सप्रेस-वे जिले के गोहाना उपमंडल (Haryana Sonipat News) से गुजर रहा है। एक्सप्रेस-वे झज्जर के गांव निलौठी से शुरू होगा और कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेस-वे से जोड़ा जाएगा। वहीं झज्जर जिले के गांव निलौठी से गुरदासपुर तक ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे 397.712 किलोमीटर और गुरदासपुर से कटरा तक ब्राउनफील्ड एक्सप्रेस-वे 122.288 किलोमीटर लंबा बनाया जा रहा है। नकोदर से अमृतसर तक ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस- वे 99 किलोमीटर तक बन रहा है। इस एक्सप्रेस-वे के बनने से दिल्ली से कटरा तक आना-जाना आसान हो जाएगा।

ALSO READ  Hit-Wave Weather : हरियाणा, पंजाब, राजस्थान समेत राज्यों में 18 मई तक गंभीर लू चलने की संभावना, अगले पांच दिन तक तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर रहेगा

 

 

 

दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेस-वे चार लेन का होगा 

जनवरी 2022 में दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेस-वे काम शुरू हुआ था। अब यह जून 2024 में बनकर तैयार होगा। वहीं ये एक्सप्रेस-वे 670 किलोमीटर लंबा बनाया जा रहा है। यह चार लेन का होगा। एक्सप्रेस-वे पर अमृतसर, वैष्णो देवी, सुल्तानपुर लोधी, तरनतारन, खडूर साहिब, गोइंदवाल साहिब आएंगे। एक्सप्रेस-वे से जीटी रोड की तुलना में दिल्ली से कटरा जाने में लगेगा आधा टाईम।

गोहाना उपमंडल से गुजरेगा दिल्ली-कटरा एक्सप्रेस-वे

हरियाणा के (Haryana Sonipat News) रोहतक, सोनीपत के गोहाना उपमंडल, जींद और कैथल से होते हुए दिल्ली-कटरा एक्सप्रेस-वे पंजाब में प्रवेश करेगा और पंजाब से जम्मू कश्मीर में कटरा तक जाएगा। जिले के गांव रुखी के निकट से शुरू होकर यह एक्सप्रेस-वे सिवानामाल गांव तक बनेगा। जबकि, एक्सप्रेस-वे क्षेत्र में 26.8 किलोमीटर लंबा बन रहा है। वहीं इस एक्सप्रेस-वे पर वाहनों के प्रवेश और निकासी की दो जगह व्यवस्था होगी।

ALSO READ  Raw employee confirm ; हरियाणा में सैंकड़ों कच्चे कर्मचारियों के लिए राहत भरी खबर, जल्द होंगे पक्के, पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट ने दिए ये आदेश

बता दें कि, यह एक्सप्रेस वे पानीपत-रोहतक नेशनल हाईवे 71 ए और जींद-सोनीपत नेशनल हाईवे 352ए से भी जुड़ेगा और एक्सप्रेस वे को गोहाना-महम-भिवानी स्टेट हाईवे से भी जोड़ा जाएगा। एनएचएआई झज्जर के गांव निलौठी से जिले के गांव सिवानामाल तक लगभग 64 किलोमीटर लंबाई में एक्सप्रेस-वे तैयार करवा रहा है, जिसका काम जनवरी 2024 तक पूरा करने का टारगेट था। इसके बाद मार्च तक समय सीमा को बढ़ाई गई थी लेकिन निर्माण कार्य पूरा न होने के चलते अब दोबारा समय सीमा जून 2024 निर्धारित की गई है।

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *